Home उत्तर प्रदेश हमने कभी हनुमान जी की जाति नहीं बताई : योगी आदित्यनाथ

हमने कभी हनुमान जी की जाति नहीं बताई : योगी आदित्यनाथ

5
0
SHARE

पटना | महावीर मंदिर में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा की हार के बाद अब ईवीएम पर सवाल उठाने वाले खामोश हैं। विपक्ष का दोहरा चरित्र जनता ने देख लिया है। एक सवाल पर कहा कि हमने हनुमान जी की जाति नहीं बताई थी। मैंने सिर्फ ये कहा कि जो दबे कुचले और वंचित थे, उनको बजरंगबली ताकत देते हैं। मेरे बयान को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया।
महावीर मंदिर में पूजा-अर्चना के दौरान मंदिर गर्भगृह में पुजारियों के अलावा केवल योगी ही रहे। योगी जब पहुंचे तो आरती का समय था। वहां खड़े श्रद्धालुओं का भी योगी ने हाथ उठाकर अभिनंदन किया। इसके बाद आचार्य किशोर कुणाल उन्हें मंदिर के अंदर ले गये।
फिर हनुमान जी की मूर्ती के पास जाकर मुख्यमंत्री ने पूजा-अर्चना की। मंदिर के पुजारी अनेक दास और उमा दास ने सीएम को पूजा करायी फिर वे पहले तल्ले पर चले गये। यहां भगवान शंकर और अन्य देवी देवताओं की पूजा की। इस अवसर पर मंत्री नंदकिशोर यादव के अलावा योगी के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार भी मौजूद रहे। इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था चुस्त रही। इस दौरान किशोर कुणाल ने उन्हें नैवेद्यैम और धार्मिक पुस्तकें भेंट की।
एयरपोर्ट पर भाजपाइयों ने किया भव्य स्वागत
पटना पहुंचने पर एयरपोर्ट पर भाजपा नेताओं ने श्री योगी का स्वागत किया। पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव, श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा सहित अन्य नेताओं ने योगी जी का पार्टी के अन्य नेताओं से परिचय कराया। एयरपोर्ट पर स्वागत करने वालों में विधायक नितिन नवीन, संजीव चौरसिया, मनोज शर्मा,सूरज नंदन कुशवाहा, नागेन्द्र के अलावा प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल, नीतीश मिश्रा, राजेन्द्र सिंह, सम्राट चौधरी, पंकज सिंह, अशोक भट्ट, राकेश कुमार सिंह, राजीव रंजन, पिंकी कुशवाहा आदि शामिल थे।
हनुमान मंदिर के बाहर जमा हुए सैकड़ों प्रशंसक
हनुमान मंदिर के बाहर योगी के सैकड़ों समर्थक जमा थे। उनके मंदिर से निकलते ही उन्होंने नारे लगाने शुरू कर दिये। सीएम ने सभी का अभिवादन स्वीकार किया फिर अपने काफिले के साथ वहां से रवाना हो गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here