Home उत्तर प्रदेश बीएचयू छात्र की हत्या, ट्रॉमा सेंटर में तोड़फोड़, हॉस्टल पर पथराव

बीएचयू छात्र की हत्या, ट्रॉमा सेंटर में तोड़फोड़, हॉस्टल पर पथराव

76
0
SHARE

वाराणसी | उत्तर प्रदेश के वाराणसी में बीएचयू मंगलवार को एक बार फिर सुर्खियों में आ गया। बीएचयू परिसर स्थित बिड़ला ‘ए’ चौराहा के पास मंगलवार देर शाम बाइक सवार चार बदमाशों ने एमसीए के निष्कासित छात्र गौरव सिंह (23) पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर उसकी हत्या कर दी।

पारा में जमीनी विवाद के दौरान युवक को मारी गोली, ट्रामा सेंटर में भर्ती
वारदात से गुस्साए छात्रों ने ट्रॉमा सेंटर में तोड़फोड़ करते हुए रुइया हॉस्टल में रहने वाले एक छात्र की पिटाई की। साथ ही बिड़ला सी में आरोपियों के मौजूद होने का आरोप लगाकर छात्रों ने पथराव किया। सूचना पाकर डीएम और एसएसपी 16 थानों की फोर्स और सीआईएसएफ के जवानों के साथ बीएचयू पहुंचे। देर रात तक बीएचयू के हॉस्टलों और आसपास के क्षेत्र में छापेमारी कर मौत से पहले गौरव द्वारा बताए गए चारों आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। वारदात की वजह छात्र गुटों की पुरानी रंजिश और वर्चस्व की लड़ाई बताई गई है।

यूपी प्रेस क्लब पर चला कोर्ट का डंडा, सीजेएम ने दिए तफ्तीश के आदेश
पुलिस ने चार आरोपियों को लिया हिरासत में
रोहनिया थाना अंतर्गत अखरी निवासी राकेश सिंह बीएचयू के कर्मचारी हैं। उनका बड़ा बेटा गौरव और छोटा बेटा सौरभ बीएचयू में पढ़ते हैं। गौरव दिसंबर 2017 में बीएचयू में हुए बवाल का आरोपी होने के कारण 2018 में गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था और इसी के बाद से वह निष्कासित चल रहा था।

स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण सैकड़ों मरीजों की जान ले रहे हैं झोलाछाप डॉक्टर व अस्पताल
छात्रों के अनुसार शाम सात बजे के लभगग बिड़ला ए चौराहा पर गौरव अपने दोस्तों से बातचीत कर रहा था। इसी दौरान दो बाइक पर सवार चार बदमाश आए और गौरव को लक्ष्य कर दो पिस्टल से आठ से 10 राउंड फायरिंग की। इससे छात्रों में भगदड़ मच गई। खून से लथपथ गौरव जमीन पर गिर पड़ा। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश बिड़ला सी चौराहा की ओर भाग निकले। बीएचयू ट्रॉमा सेंटर के डॉक्टरों के अनुसार रात 12:45 बजे आईसीयू में भर्ती गौरव की मौत हो गई। उसके पेट और पसलियों में तीन गोली लगी थी। गौरव के पिता राकेश सिंह की तहरीर पर शिवम द्विवेदी, आशुतोष त्रिपाठी, कुमार मंगलम और रुपेश तिवारी के खिलाफ लंका थाने में हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने मौके से खोखे बरामद किए। एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि वारदात की वजह छात्र गुटों की पुरानी रंजिश है। गौरव द्वारा बताए गए चारों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

लचर तफ्तीश से दफन हो रहे हैं राजधानी में हुए हत्याओं के राज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here