Home उत्तर प्रदेश वाराणसी में सो रहे पिता-पुत्र को बम से उड़ाया, 50 मीटर दूर...

वाराणसी में सो रहे पिता-पुत्र को बम से उड़ाया, 50 मीटर दूर तक उड़े सिर के परखच्‍चे

277
0
SHARE

वाराणसी। शहर से 20 किमी दूर चौबेपुर थाना क्षेत्र के मिल्कोपुर गांव में मंगलवार की देर रात बाप-बेटे की विस्फोटक से हत्या कर दी गई। दोनों घर के बरामदे और उसके बाहर चारपाई पर सोये थे। विस्फोटक इतना शक्तिशाली था कि बेटे की खोपड़ी घटना स्थल से 50 मीटर दूर मिली। बुधवार सुबह घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। मौके पर एडीजी, आईजी और एसएसपी समेत 10 थानों की फोर्स और प्रशासनिक अफसर मौके पर पहुंच गये। पुलिस फिलहाल घटना को जमीन विवाद से जोड़कर जांच में जुटी है। वारदात में डेटोनेटर के इस्तेमाल होने की बात सामने आ रही है। इससे वारदात के नक्सली कनेक्शन पर भी पुलिस की नजर है।

बर्गर खिलाने के बहाने किडनैप कर दो मासूम बहनों से गैंगरेप, एक की हालत नाजुक
चिरईगांव विकासखंड में चंद्रा-बलुआ मार्ग पर स्थित मिल्कोपुर गांव में सड़क किनारे लालजी यादव (48) का कटरा है। इनका पैतृक आवास कटरे से डेढ़ किमी दूर पचरांवा में है। लालजी यादव अपने बेटे अजय यादव (22 वर्ष) के साथ रात में पैतृक आवास पर खाना खाने के बाद कटरे में अपनी खरी-चूनी की दुकान पर पहुंचे। रात करीब 12.30 बजे तेज धमाके की आवाज हुई। उसे सुनकर आसपास के लोगों को लगा कि ट्रक का टायर फटा होगा। गांव वालों को सुबह बरामदे में लालजी यादव और बरामदे के बाहर बेटे अजय यादव की लाश पड़ी मिली। दोनों की खोपड़ी उड़ गयी थी। पीठ का कुछ हिस्सा भी बुरी तरह जख्मी था। विस्फोट के चलते ऊपर के हिस्से का सीमेंटेंड शेड भी उड़ गया था। कुछ ही देर में घटना की खबर कानो-कान फैली तो मौके पर सैकड़ो लोगों की भीड़ जुट गई। उधर, विस्फोटक से दो हत्या की जानकारी मिलने पर एडीजी, आईजी, एसएसपी समेत 11 थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। डीजीपी कार्यालय ने भी इस घटना की पूरी जानकारी मांगी है।

बड़ा हादसा : मेरठ में डिवाइडर पर सो रहे 15 लोगों को कैंटर ने कुचला, 5 की मौत
पूर्वांचल में इस तरह की पहली घटना
एडीजी पीवी रामाशास्त्री ने बताया कि विस्फोटक से हत्या करने की पूर्वांचल में यह पहली घटना है। इसकी जांच के लिए फॉरेंसिक टीम के साथ पुलिस की तीन टीमें लगायी गई हैं। उन्होंने कहा, फिलहाल मृतकों की प्रोफाइल देखकर नहीं लगता कि इस हत्या में नक्सलियों की भूमिका होगी। कुछ लोगों ने जमीन विवाद की बात बताई है लेकिन अभी हत्या के कारण स्पष्ट नहीं हैं।
नाराज ग्रामीणों ने रोका रास्ता
जघन्य हत्या से आक्रोशित ग्रामीणों ने चंद्रा-बलुआ मार्ग पर जाम कर दिया। हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की। मृतकों के परिजनों को 25-25 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग कर रहे हैं। मौके पर पुलिस व प्रशासनिक अफसर सभी को शांत कराने में जुटे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here