Home उत्तर प्रदेश दो अपराधियों ने पीछाकर वकील की कनपटी में मारी थी गोली, 10...

दो अपराधियों ने पीछाकर वकील की कनपटी में मारी थी गोली, 10 लाख मुआवजे का ऐलान

993
0
SHARE

इलाहाबाद | इलाहाबाद के पाश इलाके मनमोहन पार्क के पास एडवोकेट राजेश कुमार श्रीवास्तव की दो बाइक सवारों ने गोली मारकर हत्या कर दी। प्रशासन ने मृतक वकील के परिजनों के लिए 10 लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की है। यह घटना एसे समय पर हुई जब प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी अपराध व कानून व्यवस्था की समीक्षा करने इलाहाबाद आए हुए हैं।

ट्रिपल मर्डर से कासगंज सनसनी, भीड़ और पुलिस में टकराव के बाद लाठी चार्ज
घटना सुबह 10.30 बजे आसपास की है। 45 वर्षीय राजेश श्रीवास्तव अपनी बाइक से कचहरी जा रहे थे। मनमोहन पार्क के पास दो अपराधियों ने पीछाकर उनकी कनपटी में गोली मारी और मौके पर ही उनकी मौत हो गयी। खास यह कि जिस स्थान पर वारादात हुई वहां से थोड़ी देर पहले ही मुख्य सचिव व डीजीपी का काफिला निकला था।
इस घटना से वकीलों में भारी आक्रोश है। सैकड़ों वकीलों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया है।

सीबीआई को मिले उन्नाव रेप में विधायक कुलदीप सेंगर की संलिप्तता के सबूत

एसएसपी आफिस के सामने बस में आग लगा दी है। अस्पताल में हंगामा चल रहा है, उनका कहना है कि इलाहाबाद में अपराध बेकाबू है। अपराधियों में कानून का डर नहीं रहा। दो दिन पहले ही फूलपुर में भाजपा नेता पवन केसरी की हत्या हुई थी। कुछ दिन पहले यूको बैंक में डकेती पड़ी और लुटेरे 17 लॉकर काटकर 10 करोड़ के गहने लूट ले गए। अभी तक इनमें एक भी गिरफ्तारी नहीं हुई है। दो दिन पहले ही नवाबगंज में स्कूल प्रबंधक को सरे बाजार पीटकर मार डाला गया।
वकील की हत्या के पीछे एसएसपी आकाश कुलहरि जमीन का विवाद बता रहे हैं। उनका कहना है कि राजेश श्रीवास्तव जमीन किसी पुराने केस में पैरवी कर रहे थे। सबसे अहम कि डीजीपी शहर में अपराध की समीक्षा कर रहे और बीच सड़क पर वकील की हत्या हो गयी। वकीलों का आक्रोश देख पूरे शहर की फोर्स बुला ली गयी है।

रायबरेली में मुठभेड़ दौरान पुलिस ने पहले असलहा तस्कर पकड़ा, बाद में मार दी गोली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here