Home लखनऊ यूपी बोर्ड : तीन हजार परीक्षार्थियों का रुक सकता है रिजल्ट

यूपी बोर्ड : तीन हजार परीक्षार्थियों का रुक सकता है रिजल्ट

773
0
SHARE

लखनऊ| यूपी बोर्ड परीक्षाओं में बगैर मान्यता प्राप्त कॉलेज के करीब तीन हजार छात्रों का परीक्षा परिणाम रोका जा सकता है। जिला विद्यालय निरीक्षक ने ऐसे छात्रों की सूची बनाकर बोर्ड को भेज दी है। जिसमें इन दाखिलों को फर्जी बताया गया है। ऐसे में इन छात्रों का परीक्षा परिणाम बोर्ड के निर्णय पर निर्भर हो गया है।
परीक्षाओं के दौरान कई परीक्षा केंद्रों पर निरीक्षण के वक्त डीआईओएस ने कई परीक्षार्थियों को चिन्हित किया था। इन परीक्षार्थियों के दस्तावेजों में जन्मतिथि अलग-अलग मिली थी। वहीं स्पष्ट था कि अधिक उम्र के लोग कम उम्र दर्ज करवाने के लिए परीक्षा में शामिल हो रहे हैं।

भारत हेवी इलेक्ट्रिकल लिमिटेड के डीजीएम की गोली मार कर हत्या, नाले में मिला शव
इसके बाद डीआईओएस ने सभी परीक्षा केंद्र व्यवस्थापकों को इस तरह के फर्जीवाड़ा करने वाले परीक्षार्थियों को चिन्हित कर सूची तैयार करने को कहा था। डीआईओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि ऐसे करीब तीन हजार परीक्षार्थी चिन्हित हुए हैं, जिनकी जन्मतिथियों में अंतर है। इसलिए इसकी पूरी विस्तृत रिपोर्ट बोर्ड को भेजी गई है।

कन्नौज में पिता को शराब पिलाकर बेटी के साथ रेप
राजधानी में दो हजार से अधिक फर्जी स्कूल संचालित हो रहे हैं। ये सभी अपने यहां छात्रों के दाखिले करते हैं, चूंकि स्कूल की मान्यता नहीं होती है, ऐसे में वह छात्रों का पंजीकरण किसी दूसरे मान्यता प्राप्त स्कूल से करवाते हैं। दोनों स्कूलों के सांठगांठ से यह पूरा खेल होता है। वहीं कुछ ऐसे भी परीक्षार्थी होते हैं जो खेल करने वाले मान्यता प्राप्त स्कूलों से संपर्क कर सीधे अपना पंजीकरण करवाते हैं।

बर्लिंगटन चौराहे पर भीषण हादसा, 6 से अधिक घायल, तीन की हालत गंभीर, नवजात सहित बुजुर्ग की मौत
डीआईओएस ने बताया कि परीक्षार्थियों के साथ उन स्कूलों की भी सूची बनाई गई है जहां ये परीक्षार्थी पढ़ते थे और जहां पर इनका पंजीकरण किया गया। इसमें अभी तक करीब सौ स्कूलों के नाम सामने आए हैं। इन सभी को नोटिस भेजा जाएगा। उसके बाद इन सभी के खिलाफ विभागीय के अलावा कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
ट्रैफिक इंस्पेक्टर ने मारी बाइक पर लात, गर्भवती महिला की मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here