Home उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव से पहले पुलिस ने बरामद किया हथियारों का जखीरा

निकाय चुनाव से पहले पुलिस ने बरामद किया हथियारों का जखीरा

126
0
SHARE

इलाहाबाद | निकाय चुनाव में हथियारों को खपाने की फिराक में लगे दो तस्करों को एसटीएफ ने सोमवार को गिरफ्तार किया। ये लोग शहर में अब तक 200 पिस्टल सप्लाई कर चुके हैं। उनके पास से यूएसए व इटली मेड पांच पिस्टल, एक तमंचा, 10 मैगजीन और 50110 रुपये बरामद हुए हैं। पकड़े गए आरोपितों ने उन लोगों के नाम का भी खुलासा किया है जिनको कुछ सालों से सैकड़ों असलहे सप्लाई करते रहे हैं।

बीजेपी को कोई खतरा नहीं, जीत पक्की : नीतीश कुमार

एसटीएफ के एडिशनल एसपी प्रवीण सिंह चौहान ने बताया कि निकाय चुनाव में असलहा तस्करी की सूचना पर टीम सक्रिय थी। सोमवार को इंस्पेक्टर अतुल सिंह ने जीआईसी के पास से नॉर्थ मलाका निवासी सिरादउद्दीन उर्फ पप्पू और चंदौली निवासी अशोक सिंह उर्फ टुल्लू को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि पप्पू जार्जटाउन के असलहा तस्कर श्रवण राय के साथ मिलकर काम करते थे। बाद में वाराणसी के आशीष सिंह से असलहे लेकर शहर में सप्लाई करने लगे। आशीष सिंह के कहने पर अशोक इलाहाबाद में पप्पू को असलहा देता था। पप्पू यूएसए मेड पिस्टल 25 हजार रुपये में बेचता था।

नाराज क्षेत्रवासियों ने वर्तमान पार्षद जताया विरोध
एसटीएफ की मानें तो कुछ सालों में पकड़े गए असलहा तस्करों ने इलाहाबाद के छात्रों को 60 पिस्टल बेची हैं। छात्रों के अलावा नैनी के गैंगस्टर पप्पू गंजिया के साथी जाने आलम को 10, गोलू को 25, आकाश पहाड़ी को 15, टार्जन को 5, करेली के आलिम को 15 पिस्टल सप्लाई कर चुका है।

शादी का झांसा देकर कानपुर की छात्रा के साथ इलाहाबाद में रेप

एसटीएफ की पूछताछ में पता चला है कि वाराणसी का आशीष सिंह बिहार के औरंगाबाद से यूएसए मेड पिस्टल मंगाता था। औरंगाबाद में रणवीर सेना की सक्रियता के बारे में भी पता चला जो पहले नक्सलियों के साथ जुड़ी थी। अब वे असलहों की तस्करी करते हैं। इस मामले में एसटीएफ का कहना है कि वाराणसी के आशीष के पकड़ में आने के बाद राज खुलेगा।

दिल्ली-एनसीआर की हवा जहरीली, SC में होगी सुनवाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here