Home देश CM के आने से पहले टूटी गंगा पंप नहर की दीवार

CM के आने से पहले टूटी गंगा पंप नहर की दीवार

99
0
SHARE

भागलपुर (एजेंसी)। बिहार सरकार की महत्वाकांक्षी गंगा पंपनहर परियोजना के कैनाल की दीवार उद्घाटन के एक दिन पहले ही ध्वस्त हो गई। राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी और करीब चार दशकों से लंबित बटेश्वर स्थान गंगा पंपनहर परियोजना के कैनाल की दीवार उद्घाटन के पहले ही मंगलवार शाम को ध्वस्त हो गई। आरजेडी ने इसे घोटाला करार दिया है।

यह भी पढ़ें :-जानिए क्यों, सीएम योगी और डिप्टी सीएम का इस्तीफा मंजूर
आज सीएम नीतीश कुमार इस परियोजना का उद्घाटन करने वाले थे, लेकिन उनका दौरा रद्द हो गया। पानी से लबालब भरे नहर की दीवार टूटते ही एनटीपीसी के आवासीय प्रक्षेत्र में बाढ़ जैसा नजारा हो गया। इस कारण मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बुधवार को सिंचाई परियोजना के उद्घाटन का कार्यक्रम रद्द हो गया तथा सारी तैयारी धरी की धरी रह गई।

यह भी पढ़ें :-टीचर से परेशान पांचवीं के छात्र ने खाया जहर, मौत
पानी के तेज बहाव के कारण एनटीपीसी कॉलोनी में अफरातफरी मच गई तथा लोग दहशतजदा हो गये। पिछले चार दशकों से हरित क्रांति का सपना संजोये क्षेत्र के किसानों की आशा पर भी पानी फिर गया। उद्घाटन को लेकर सोमवार से सिंचाई परियोजना के मोटर पंपों का ट्रायल किया जा रहा था। बारी-बारी से मोटर पंप चलाये जा रहे थे। सोमवार को महज दो मोटर पंपों को कुछ घंटों तक चलाया गया लेकिन मंगलवार को ट्रायल रन के क्रम में मोटर पंपों की संख्या बढ़ा दी गई तथा चार मोटर पंपो से नहर में पानी गिराया जाने लगा। इससे नहर पानी से लबालब भर गया।
एनटीपीसी के अस्थाई आवासीय परिसर स्थित सीआईएसएफ कॉलोनी के पास अंडर रोड ब्रिज यानि टनल रोड के ऊपर से गुजरे कैनाल के उत्तरी छोर की दीवार ढह गयी और पानी का तेज बहाव होने लगा। टनल रोड में करीब सात से आठ फीट पानी जमा होने के बाद पास के सीआईएसएफ कॉलोनी और ठेकेदार कॉलोनी पूरी तरह जलमग्न हो गया। दोनों कॉलोनियों के अधिकांश घरों में पानी घुस गया।

यह भी पढ़ें :-योगी सरकार ने 29 आईपीएस अधिकारियों के किये तबादले

सब जज और सिविल जज के आवासों में भी पानी घुस गया। सत्कार चौक से मुरकटिया चौक की ओर जानेवाले मार्ग पूरी तरह जलमग्न होने के बाद आवागमन ठप हो गया। वहीं कहलगांव से सत्कार चौक और शहर से मुरकटिया चौक की ओर जानेवाला मार्ग भी जलमग्न हो गया जिससे आवाजही बुरी तरह प्रभावित हो गई। पानी के तेज बहाव के कारण सीआईएसएफ कॉलोनी का करीब 150 मीटर लंबी दीवार भी ढह गयी।

यह भी पढ़ें :-प्रसाद इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंसेस पर छापा, नोटिस के बावजूद चल रहा था कॉलेज
अंडर रोडब्रिज के निकट की दीवार को जेसीबी मशीन से तोड़कर पानी को सीआईएसएफ कॉलोनी मे घुसने से रोकने का असफल प्रयास भी किया गया। वहीं अनेक जगहों पर नहर की दीवार से हो रहे रिसाव के कारण सड़कों पर पानी बहने लगा। अकबरपुर और रानीपुर लघरिया गांवों में भी पानी का प्रवेश हो गया तथा कुछ घर क्षतिग्रस्त भी हो गये।

यह भी पढ़ें :-कम उम्र में सेक्स करना बेहद खतरनाक, बर्बाद हो जाएगी जिंदगी

जल संसाधन विभाग के प्रधान सचिव अरूण कुमार सिंह, जिलाधिकारी आदेश तितरमारे, एसएसपी मनोज कुमार तथा अन्य वरीय अधिकारियों ने स्थिति का जायजा लिया। देर रात उक्त स्थल के पास बालू भरे जियो बैग डालकर पानी के बहाव रोकने का प्रयास किया जा रहा था।

यह भी पढ़ें :-होटल व्यवसाय हत्या के मामले में सीबीआई जांच की मांग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here