Home उत्तर प्रदेश देवरिया बालगृह कांड : तीन बच्चियों को विदेशी व्यक्तियों के हाथ बेचा...

देवरिया बालगृह कांड : तीन बच्चियों को विदेशी व्यक्तियों के हाथ बेचा गया!

337
0
SHARE

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के देवरिया जनपद में बाल गृह की आड़ में चल रहे सेक्स रैकेट को रोकते हुए पुलिस ने 24 नाबालिग बच्चियों को रेस्क्यू ऑपरेशन कर छुड़वाया। इस मामले में योगी सरकार ने नाराजगी दिखाते हुए देवरिया के डीएम सुजीत कुमार को हटा दिया। वही डीपीओ अभिषेक पांडे को सस्पेंड कर दिया गया। साथ ही दो अंतरिम डीपीओ नीरज कुमार एवं अनूप सिंह पर विभागीय कार्यवाही किए जाने के आदेश दिए गए हैं।

देवरिया बालिका गृह यौन शोषण प्रकरण की जांच के लिए कमेटी गठित, डीएम सुजीत हटाये गए
प्रारंभिक पूछताछ के दौरान नाबालिग बच्चियों ने बताया कि उन्हें गलत काम करने के लिए शाम 4:00 बजे गोरखपुर भेजा जाता था। जहां एक कमरे में एक लड़की के साथ 2 लड़के रहते थे। इस काम के लिए उन्हें वह लड़के पैसे भी देते थे जो गिरिजा त्रिपाठी की जेब में जाता था। वही इस बात का भी खुलासा हुआ कि तीन बच्चियों को विदेशी व्यक्तियों के हाथ बेच दिया गया है, जबकि एक की मौत हो गई है। अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि उस बच्ची की मौत किन कारणों से हुई है और उसका शव कहां पर दफनाया या जलाया गया है। मां-बाप से बिछड़ी इन बच्चियों को जबरन देह व्यापार के दलदल में धकेला जाता रहा। जिस लड़की ने भी इसका विरोध किया तो उन्हें काट-काट कर गंगा में बहाने, जान से मारने की धमकी देकर उनका मुंह बंद करा दिया गया है।

मुजफ्फरपुर के बाद अब यूपी में भी घिनौना कांड, देवरिया शेल्टर होम में सेक्स रैकेट का भंडाफोड

अधिकारियों की मानें तो इस बाल गृह का रजिस्ट्रेशन 2017 में समाप्त हो गया था| उसके बावजूद भी यहां अवैध रूप से 42 लड़कियों को रखा गया था। जिसमें कि 18 लड़कियां गायब हैं। इसी प्रकरण में तीन बच्चियों को विदेशी व्यक्तियों के साथ बेचे जाने का मामला प्रकाश में आया। फिलहाल किस बात की आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हो पाई है।
मां विंध्यवासिनी महिला प्रशिक्षण एवं समाज सेवा संस्थान की आड़ में नाबालिग बच्चियों के साथ हो रहे शोषण के मामले में अभी अन्य और नाम आना बाकी है। संपूर्ण प्रकरण की जांच के लिए अपर मुख्य सचिव महिला कल्याण रेणुका कुमार और अपर पुलिस महानिदेशक (महिला हेल्पलाइन) अंजू गुप्ता की जांच कमेटी के गठन कर 24 घंटे के अंदर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए है। जिसे आने में कुछ वक्त बचा हुआ है|

मरीजों का इलाज करने वाला काकोरी का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खुद बीमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here