Home क्राइम तेज रफ्तार वैगनआर कार ने सिपाही को मारी टक्कर, मौत

तेज रफ्तार वैगनआर कार ने सिपाही को मारी टक्कर, मौत

316
0
SHARE

आगरा एक्सप्रेस-वे पर बड़ागांव-बहुरिया के बीच कट पर हुई घटना
हादसे के बाद भाग रहे वैगनआर के ड्राइवर को पुलिसकर्मियों ने दबोचा
लखनऊ। आगरा एक्सप्रेस-वे पर बुधवार सुबह एक तेज रफ्तार वैगनआर कार की टक्कर से सिपाही काशी सिंह (50) की मौके पर ही मौत हो गई। टक्कर इतनी तेज थी कि सिपाही उछलकर करीब 30 फीट दूर जा गिरा। यूपी 100 पीआरवी की इनोवा में उसकी तैनाती थी। वह एक्सप्रेस-वे पर बड़ा गांव और बहुरिया के बीच बने कट पर कार से बाहर खड़ा होकर साथी पुलिसकर्मियों से बात कर रहा था, तभी लखनऊ की ओर से जा रही कार ने उसे टक्कर मार दी। हादसे के बाद भाग रहे कार ड्राइवर को पुलिसकर्मियों ने दौड़ाकर पकड़ लिया।

यह भी पढें:-अवैध संबंध में हुई थी महिला की हत्या
यूपी 100 की पीआरवी इनोवा में तैनात सिपाही काशी सिंह मूलरूप से कुशीनगर जिले के महोई गांव के रहने वाले थे। वह करीब 20 साल से पत्नी निर्मला, बेटे राहुल, बेटी प्रिया, सपना और अनुराधा के साथ पान दरीबा स्थित मकान में रहते थे। थानाध्यक्ष काकोरी यशकांत सिंह के मुताबिक बुधवार सुबह काशी सिंह, पीआरवी के पायलट मदनलाल, कमांडर दारोगा जयचंद्र के साथ हाईवे पर गश्त कर रहे थे।

यह भी पढें:-मानसिक विक्षिप्त से युवक नहर में कूदा, मौत

गश्त के दौरान वह बड़ा गांव-बहुरिया गांव के बीच हाईवे पर बने कट पर इनोवा खड़ी कर बात कर रहे थे। काशी सिंह इनोवा के बाहर खड़े थे, जबकि कमांडर और पायलट अंदर बैठे थे। इस बीच लखनऊ की ओर से आ रही तेज रफ्तार वैगनआर कार ने काशी को जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर से पीआरवी का साइड मिरर भी टूट गया और गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई।

यह भी पढें:-एटीएस ने आतंकी अब्दुल्लाह को पांच दिन की रिमांड पर लिया

टक्कर लगने से काशी सिंह उछलकर करीब 30 फीट दूर सड़क पर गिरे, जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपित कार ड्राइवर पंकज मिश्रा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। वह जानकीपुरम के सेक्टर एफ का रहने वाला है। घटना की जानकारी काशी के परिवारीजनों और उच्च अधिकारियों को दी गई। इसके बाद शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया।

यह भी पढें:-अधेड़ की हत्या कर शव को जलाने का प्रयास
सूचना मिलते ही परीक्षा छोड़ भागा बेटा
सिपाही काशी सिंह की मौत की सूचना पुलिस ने उसके घर पर दी। सूचना मिलते ही घर पर कोहराम मच गया। परिवारीजनों ने आइटीआइ की परीक्षा देने के लिए घर से निकले बेटे राहुल को सूचना दी। राहुल परीक्षा छोड़कर मौके पर पहुंचा। राहुल ने बताया कि वह कानपुर रोड स्थित संस्थान से आइटीआइ इलेक्ट्रॉनिक्स अंतिम वर्ष का छात्र है। वह परीक्षा देने कॉलेज जा रहा था, तभी रास्ते में उसे सूचना मिली थी।

यह भी पढें:-स्कूल वैन में लगी आग, बड़ा हादसा टला
बेटी के लिए आज जाना था रिश्ता देखने
काशी सिंह के बेटे राहुल ने बताया कि पापा बहनों की शादी के लिए रिश्ता भी देख रहे थे। मंगलवार रात ड्यूटी पर जाने से पहले पापा ने घर से ही फोन पर एक अंकल से बात की थी। उन्होंने बहन सपना के लिए रिश्ता बताया था। पापा को आज सुबह बहन के लिए रिश्ता देखने जाना था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here