Home लखनऊ सिपाहियों के हौसले को सलाम, गोमती नदी में कूद रहे युवक बचाया

सिपाहियों के हौसले को सलाम, गोमती नदी में कूद रहे युवक बचाया

59
0
SHARE

लखनऊ। दीवाली पर घर जाने से पहले तनख्वाह मिलने की आस लगाये युवक को मैनेजर ने फटकार दिया। मैनेजर से हुई नोंकझोंक से आहत हो युवक गांधी सेतु जा पहुंचा। जहां से युवक ने नदी में कूद कर खुदकुशी करने का प्रयास किया पर, गश्त कर रहे सिपाहियों ने नदी में कूदने जा रहे युवक को पकड़ बचा लिया।

प्रेमिका को केरोसिन छिड़क कर जिंदा फूंकने के मामले में केस दर्ज
फैजाबाद निवासी हिमांशु त्रिपाठी हजरतगंज स्थित एक फर्म में काम करता है। दीवाली के त्योहार पर घर जाने के लिए हिमांशु ने मैनेजर से तनख्वाह देने के लिये कहा था। पर, मैनेजर ने उसे रुपए देने से इंकार कर दिया। इसी बात को लेकर दोनों के बीच कहासुनी हो गई। बात बढ़ी तो मैनेजर ने हिमांशु को पीट दिया। जिससे नाराज होकर सोमवार की दोपहर वह गांधी सेतु पहुंच गया। कुछ देर सेतु पर खड़े रहने के बाद हिमांशु ने जूते उतारे और रेलिंग पर चढ़ने लगा। इस बीच गश्त कर रहे सिपाहियों की नजर नदी में कूदने जा रहे युवक पर पड़ गई।

नहीं मिली एंबुलेंस, बोलेरो की छत पर बांध कर ले गए शव
एसओ गौतमपल्ली अम्बर सिंह ने बताया कि सिपाही नदी में कूद रहे युवक को पकड़ कर थाने ले आये। जहां पूछताछ में हिमांशु ने अपनी बात बताई। इस बीच युवक के चाचा आकाश त्रिपाठी को हिमांशु द्वारा खुदकुशी करने का प्रयास किये जाने की सूचना दी। कुछ देर बाद आकाश गौतमपल्ली थाने पहुंचे और भतीजे को साथ लेकर लौट गये।

हेडकांस्टेबल ने लगाया इंस्पेक्टर पर सिर फोड़ने का झूठा आरोप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here