Home क्राइम बिजनौर में लड़की से प्यार करने की सजाए पेड़ से बांध कर...

बिजनौर में लड़की से प्यार करने की सजाए पेड़ से बांध कर चप्पल से पिटाई

226
0
SHARE

बिजनौर। यूपी के बिजनौर जिले में इंसानियत को शर्मसार करने वाला मामला प्रकाश में आया है। यहां के इश्लामाबाद गांव में रहने वाले एक युवक को गांव की लडक़ी से प्यार करना मंहगापड़ गया। इसकी भनक जब लडक़ी के परिवार वालों को हुई तो उन्होंने ग्रामीणों की मदद से पहले तो लडक़ी के प्रेमी की बेरहमी से पिटाई कर दी। इसके बाद उसके परिवार को भी बहुत पीटा। इससे भी जब ग्रामीणों का दिल नहीं भरा तो ग्रामीणों ने प्रेमी और उसके परिवार को जूतों की माला पहनाई और पूरे गांव में घुमाया। इस मामले में पुलिस ने 7 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
बिजनौर में पंचायतों का तुगलकी फरमान
बिजनोर भी अब पंचायतों क़ा गढ़ बन चुका है। यहां भी अब पंचायते अपने तुगलकी फरमान जारी करने के साथ-साथ सजा भी सुनाने से नहीं चूक रहीं हैं। सजा भी ऐसी कि जहां सुनने वाले की रूह कांप जाए और सजा सुनाने वालों को कोई गम न हो। पीडि़तों पर गांववालों का कहर बरपा दिया जाए। लेकिन कानून की नुमाइंदगी करने वाले और कानून के पहरेदारों को भनक भी न लगे ये कैसे हो सकता है। पंचायत के तुगलकी फरमान के आगे पूरे परिवार को दिन दहाड़े घर से खींचकर पंचायत के ठेकेदारों ने पहले तो जमकर की पिटाई और फिर जूतों की माला पहनाकर घण्टो तक पूरे गावँ में घुमाया वो भी महज़ इसलिए कि पीडि़त प्रेमी पड़ोस की ही युवती से प्यार जो करता था।
आंख पर पट्टी बांधे बैठे रहे कानून के रक्षक
इस्लामाबाद गांव में प्रेमी के परिवार को 2 घण्टो तक पंचायत की सजा दी जाती रही। कानून के पहरेदार सोते रहे। पीडि़तों के साथ पूरा गांव जुल्म करता रहा और कानून के रक्षक आंख पर पट्टी बांधे बैठे रहे। जुल्म सहने वाले पीडि़तों की चीख से आसमान भी थर्रा गया। लेकिन जुल्म करने वालों को रहम नहीं आया। पीडि़त परिवार के रोने की आवाज से आसमान के भी आंसू बहने लगे। लेकिन जुल्म करने वालों को जरा भी दया नहीं आई।
प्रेमी को एक घंटे पेड़ से उल्टा लटकाया गया
प्रेमी के मां-बाप और खुद प्रेमी तीनों के गले मे जूतो का हार डालकर पूरे गाँव मे घुमा गया। इतना ही नहीं तीनो की पंचायत ने पिटाई भी की लेकिन कोई भी बचाने नहीं आया। बाद में पंचायत ने प्रेमी को एक और सजा सुनाई कि प्रेमी को पीपल के पेड़ पर 1 घण्टे उल्टा लटकाया गया। गांव में 3 घण्टे तक जंगलराज रहा लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी।

घर के भीतर बेटी की गला रेतकर हत्या, पिता ने दी सुसाइड की जानकारी

पीडि़त परिवार ने थाने में आप बीती सुनाई तो पुलिस ने कोई कार्रवाई करना उचित नहीं समझा, लेकिन मीडिया में मामला उजागर किया तो सोई पुलिस जाग गयी और पुलिस को उसका फर्ज याद आया तब जाकर पंचायत के 7 लोगों के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज किया गया। हालांकि इस पूरे मामले में पुलिस के आला अधिकारी भी पीडि़तों पर गले जूते की माला पहनाने की बात ज़रूर कबूल रहे है। गौरतलब है कि श्रवण कुमार पड़ोस की ही एक युवती से प्यार करता था। इसी वजह से प्रेमिका के परिवार वालों ने गांव वालों के साथ मिलकर शर्मसार करने वाली घटना को अंजाम दिया है। ये पूरा मामला बिजनौर के थाना बढ़ापुर के इस्लामाबाद इलाके का है।

चेन लुटेरों के अंतर्राष्ट्रीय गिरोह का पर्दाफाश, पांच गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here