Home क्राइम सीओ आलमबाग के गनर और ड्राइवर की गुंडागर्दी, होटलकर्मियों से की मारपीट

सीओ आलमबाग के गनर और ड्राइवर की गुंडागर्दी, होटलकर्मियों से की मारपीट

1408
0
SHARE

लखनऊ। राजधानी के आलमबाग क्षेत्र में स्थित मेट्रो होटल में बीती रात सादी वर्दी में आए पुलिसकर्मियों ने जमकर उत्पात मचाया। कमरा मिलने के बावजूद पुलिसकर्मियों ने दूसरे कमरे में मौजूद लोगों के साथ मारपीट की। इतना ही नहीं मैनेजर ने पुलिस को सूचना दी तो उल्टे पुलिस उसे थाने लेकर चली आई। होटल मालिक के बेटे ने आरोप लगाया कि पुलिस मामले में समझौता करने का दबाव बना रही है। होटल के मालिक बंटी अबराल के अनुसार सभी सिपाही मानकनगर में तैनात है और दो सिपाही सीओ आलमबाग के गनर और ड्राइवर बताये जा रहें है|

सर्राफा व्यवसाई की दुकान से 20 किलो चांदी, 300 ग्राम सोना चोरी
रोड पर होटल मेट्रो स्थित है। मेट्रो संचालक के बेटे नीकू ने बताया कि बीती रात करीब आधा दर्जन पुलिसकर्मी सादी वर्दी में पहुंचे। आरोप है कि सभी पुलिसकर्मी नशे में थे। होटल में पहुंचते ही उन्होंने एक कमरे की मांग की। कमरा देने पर उसे छोटा बताते हुए वह वहां मौजूद मैनेजर रमेश यादव के साथ गाली गलौज और मारपीट करने लगे।

अत्याधुनिक हथियारों से लैस होगी यूपी एटीएस

मैनेजर बिज्जू का कहना है कि इस दौरान वह दूसरे कमरे में मौजूद दंपति का दरवाजा पीटने लगे। उसके द्वारा दरवाजा खोलने पर पुलिसकर्मियों ने उनके साथ मारपीट की। यह देख उसे बचाने पहुंचे मैनेजर समेत अन्य लोगों को भी पुलिसकर्मियों ने नहीं बख्शा और जेल भेजने की धमकी देने लगे। घण्टों उत्पात के दौरान मैनेजर ने पुलिस को सूचना दी। इस दौरान वहां पहुंची पुलिस उल्टे मैनेजर रमेश यादव को थाने उठा ले गई। मेट्रो संचालक के बेट का कहना है कि थाने में पुलिसकर्मियों ने मैनेजर के साथ मारपीट की और उसे धमकाया भी।

लखनऊ समेत कई जिलों में मतदान के दौरान ईवीएम हुईं खराब
एसएसपी दीपक कुमार ने की कारवाई
थाना आलमबाग अंतर्गत होटल में पुलिस कांस्टेबल के द्वारा मारपीट किए जाने के आरोप के संदर्भ में एसएसपी दीपक कुमार के द्वारा थाना मानक नगर में नियुक्त आरक्षी कमलवीर सिंह, आरक्षी प्रदीप शर्मा व आरक्षी गोपाल गिरी को तत्काल प्रभाव से निलम्बित करते हुए उपरोक्त प्रकरण की जांच एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्रा को देकर 48 घंटे के अंदर (चुप ताजिया के अगले दिन) जांच रिपोर्ट देने का आदेश किया गया है! यदि उपरोक्त आरक्षीगण जांच में दोषी पाए जाते हैं तो उनके विरुद्ध कर्मचारी आचरण नियमावली के नियम 14 (1) के अंतर्गत बर्खास्तगी की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी|

सिटीयाबाजी में हुई थी बजरंग दल नेता की हत्या, महिला समेत चार गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here