Home क्राइम पारा पेंटर हत्या : एक वर्ष बीतने के बाद भी नहीं मिले...

पारा पेंटर हत्या : एक वर्ष बीतने के बाद भी नहीं मिले राजकुमार चौरसिया के हत्यारे

104
0
SHARE

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के पारा थाना क्षेत्र में 38 वर्षीय पेंटर की हत्या के मामले में 1 वर्ष बीतने के बाद भी पुलिस खाली हाथ है। हत्यारों ने पेंटर की हत्या कर शव को चार टुकड़ों में कर गायत्री पुरम कॉलोनी के खाली पड़े प्लॉट के किनारे फेंक कर फरार हो गए थे। इस मामले में परिजनों ने मृतक के दोस्तों पर हत्या की आशंका जताते हुए पारा पुलिस को तहरीर दी थी, लेकिन तमाम जांच पड़ताल के बाद भी आरोपियों के खिलाफ कोई सबूत ना मिलने के कारण पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया।

सीमांचल एक्सप्रेस हादसे में 7 की मौत, मृतकों के परिवार को 5 लाख के मुआवजे का एलान
राजकुमार चौरसिया 38 वर्ष पुत्र श्यामसुंदर चौरसिया निवासी राम विहार कॉलोनी की हत्या 18 मई 2018 को हुई थी। हत्यारों ने उनके शव को चार टुकड़े कर बोरे में भरकर गायत्री पुरम इलाके में खाली प्लॉट के किनारे फेंक कर फरार हो गए थे। इस संबंध में पुलिस ने उसके दोस्त आंशु, विरेंद्र यादव, अनिल, प्रदीप कालिया व एक अन्य व्यक्ति को गिरफ्त में लिया था, लेकिन तमाम पूछताछ के बाद भी आरोपियों के खिलाफ कोई ठोस सबूत ना मिलने के कारण पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया। जबकि सूत्रों की माने तो हत्यारे बहुत ही करीबी है। जिन्होंने हत्या की षड्यंत्र बड़ी बारीकी से बुना था। पुलिस सूत्रों की मानें तो हत्या में परिजनों का हाथ होने की संभावना है। जिसके कारण जाँच में परिजन पूर्ण रूप से सहयोग नहीं कर रहे हैं। प्रारंभिक जांच में पुलिस ने बताया था कि अवैध संबंध व पैसो के लेनदेन के मामले में राजकुमार चौरसिया की हत्या हुई थी। लेकिन पुलिस आज तक हत्यारों के करीब नहीं पहुंच पाई है।

डॉ शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय द्वारा आधुनिक लाइब्रेरी देने का प्रयास बड़ी जोरों पर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here