Home क्राइम मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के सफेदपोशों को बेनकाब करने की मुहिम तेज

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के सफेदपोशों को बेनकाब करने की मुहिम तेज

72
0
SHARE

पटना | मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के सफेदपोशों को बेनकाब करने की मुहिम तेज हो गई है। सीबीआई, अभियुक्तों के मोबाइल के जरिए ऐसे लोगों तक पहुंचने में जुटी है, जो पर्दे के पीछे से इस मामले में लिप्त थे। अभियुक्त बनाए गए 11 लोगों के साथ ही सीबीआई ने ब्रजेश ठाकुर की राजदार मधु ठाकुर के मोबाइल कॉल डिटेल रिकॉर्ड (सीडीआर) मांगा है। इस बीच मंगलवार को दोबारा सीबीआई के एसपी जेपी मिश्रा के नेतृत्व में कई अफसरों की टीम मुजफ्फरपुर पहुंची।
चार-पांच अभियुक्तों के सीडीआर मिले
सूत्रों के मुताबिक सीबीआई ने यौन शोषण कांड के सिलसिले में जिन अभियुक्तों और आरोपितों के सीडीआर मांगे हैं, उनमें चार-पांच अभियुक्तों के सीडीआर मिल गए हैं। इन्हें खंगाला जा रहा है। जल्द ही बाकी के भी कॉल डिटेल्स मिलने की उम्मीद है। इसके जरिए सीबीआई पता लगाएगी कि अभियुक्तों से किन लोगों की ज्यादा बातचीत होती थी। उसके बाद मोबाइल धारक की पहचान की जाएगी।
मधु ठाकुर के लिए बिछाया गया जाल
मुजफ्फरपुर बालिका गृह के संचालन से जुड़ी मधु ठाकुर की गिरफ्तारी इस केस के लिए अहम कड़ी साबित हो सकती है। लिहाजा सीबीआई ने उसकी गिरफ्तारी के लिए जाल बिछाना शुरू कर दिया है। इसके लिए कई तरकीब अपनाई जा रही है। मधु ठाकुर के बारे में कहा जाता है कि वह बेहद चालाक है। गिरफ्त में आती भी है तो उससे राज उगलवाना आसान नहीं होगा।
बिहार पुलिस से सीबीआई को मिले चार अफसर
सीबीआई ने जांच में सहयोग के लिए बिहार पुलिस से अफसरों की मांग की थी। इसके बाद बिहार पुलिस की ओर से चार पुलिस अफसर मुहैया कराए गए हैं। ये अफसर सीबीआई की टीम के साथ मुजफ्फरपुर में मौजूद हैं और जांच में मदद कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here