Home उत्तर प्रदेश गोकशी पर बवाल, भीड़ ने इंस्पेक्टर को पीट-पीटकर मार डाला, युवक की...

गोकशी पर बवाल, भीड़ ने इंस्पेक्टर को पीट-पीटकर मार डाला, युवक की भी मौत-VIDEO

305
0
SHARE

बुलंदशहर | उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में सोमवार को गोकशी के बाद मचे बवाल में गुस्साई भीड़ ने स्याना थाने के इंस्पेक्टर की पीट पीटकर हत्या कर दी। गुस्साई भीड़ ने पुलिस पर पथराव करते हुए पुलिस के कई वाहन फूंक दिए और चिंगरावठी पुलिस चौकी में आग लगा दी। सूचना मिलने के बाद कई थानों की पुलिस और आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और हालात को काबू में करने के प्रयास किए जा रहे हैं। उधर, बुलंदहशहर में चल रहे इज्तेमा से लौट रहे कई वाहनों के फंसने से स्थिति विकट होती जा रही है। एडीजी प्रशांत कुमार घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और पुलिसकर्मियों से घटना की जानकारी ली। सीओ एसपी शर्मा ने इस मामले में स्याना कोतवाल सुबोध कुमार की मौत की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि इस मामले में पुलिस की गोली से घायल हुए युवक सुमित की भी मौत हो गई है।
बताया जा रहा है कि थाना कोतवाली क्षेत्र के गांव महाव के जंगल में रविवार की रात अज्ञात लोगों ने करीब 25-30 गोवंश काट डाले। गोवंश काटने की सूचना मिलने पर कई हिन्दू संगठनों सहित अन्य लोगों में आक्रोश फैल गया। गुस्साए लोग घटनास्थल पर पहुंचे और गोवंश के कटे अवशेषों को ट्रैक्टर ट्रॉली में भरकर चिंगरावठी पुलिस चौकी पर पहुंचे।
गुस्साई भीड़ ने बुलंदशहर-गढ़ स्टेट हाईवे पर ट्रैक्टर ट्रॉली लगाकर रास्ता जाम कर दिया और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी शुरू कर दी। सूचना मिलने पर एसडीएम अविनाश कुमार मौर्य और सीओ एसपी शर्मा पहुंचे। इसके बाद लोगों का गुस्सा भड़क गया और पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया। पुलिस ने भी जवाब में फायरिंग की, जिसमें चिंगरावठी निवासी सुमित को गोली लग गई। इसके बाद युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसकी मौत हो गई। इसके बाद बेकाबू भीड़ ने पुलिस के कई वाहन फूंक दिए। साथ ही चिंगरावठी पुलिस चौकी में आग लगा दी।
भीड़ की पिटाई के कारण स्याना कोतवाल सुबोध कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां कुछ देर बाद उनकी मृत्यु हो गई। बवाल की जानकारी स्याना सहित अहार, बुगरासी,, बीबीनगर सहित आसपास के कई थानों का पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई। उधर, बुलंदशहर में इज्तेमा से लौट रहे हजारों वाहन भी बवाल के कारण फंस गए। भीड़ ने इज्तेमा से लौट रहे युवकों से भी मारपीट की। फिलहाल ऐसे वाहनों का रूट डायवर्ट कर औरंगाबाद से जहांगीराबाद से निकाला जा रहा है। मौके पर एसएपी और आला अधिकारी भारी पुलिस फोर्स के साथ मौजूद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here