Home क्राइम लखनऊ पुलिस से नहीं मिली मदद, तेंदुए को मारने वाले पर दर्ज...

लखनऊ पुलिस से नहीं मिली मदद, तेंदुए को मारने वाले पर दर्ज होगी एफआईआर : वन विभाग

1167
0
SHARE

लखनऊ | वन विभाग में तैनात अधिकारी लाखों की सैलरी पाने के बावजूद भी एक बेजुबान जानवर को सुरक्षित उसके स्थान पर नहीं पहुंचा पाए, नतीजा उसे अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। वन विभाग को राज्य सरकार व केंद्र सरकार अरबों के संसाधन उपलब्ध कराती है। जिससे वह जानवरों की सुरक्षा धड़पकड़ व उनके इलाज की व्यवस्था हो सके। लेकिन आशियाना थाना क्षेत्र में आतंक का पर्याय बने तेंदुए को पकड़ने में वन विभाग असफल हो गया। अब अपनी गलतियों को छुपाते हुए वन विभाग उस व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की बात कर रहा है जिसने तेंदुए को मार गिराया।

मुन्ना बजरंगी गैंग के दो शार्प शूटर फैजाबाद जनपद से गिरफ्तार

लाखों रुपए की मोटी सैलरी उठाने वाले वन विभाग के अधिकारी एक बेजुबान जानवरों की सुरक्षा नहीं कर पा रहे हैं हर बार कहीं ना कहीं से यह बेजुबान जानवर भागकर शहर आ जाते हैं और भीड़ भाड़ को देखते हुए आक्रामक हो जाते हैं। जिसके कारण क्षेत्र में दहशत आतंक फैल जाता है। जानवर अपने आप को असुरक्षित महसूस करते हुए वह आक्रामक हो जाता है और लोगों को घायल करना शुरू कर देता है। ठीक उसी प्रकार जिस प्रकार वह आशियाना में कर रहा था।

कोहराम मचाने वाला तेंदुआ SHO की गोली से ढेर, पुलिस को 50 हजार का इनाम

वन विभाग ने तेंदुए को मारने वाले पर एफआईआर दर्ज कराने की बात कही है। फिलहाल वन विभाग ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं। कहा जा रहा है कि 15 दिन में जांच पूरी कर तेंदुए की मौत के जिम्मेदार को जेल भेजा जाएगा। आरोपी के खिलाफ इंडियन वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत मुकदमा चलाया जायेगा|
वन विभाग के एसडीओ मोहनलालगंज अयोध्या प्रसाद इस पूरे मामले की मामले की जांच करेंगे। जांच में दोषी पाए जाने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी। इस बीच इंडियन वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की कार्रवाई चल रही है।

सांसद अंजू बाला ने सण्डीला रेलवे स्टेशन का किया औचक निरीक्षण
मुख्य वन संरक्षक प्रवीण राव का कहना है कि लखनऊ पुलिस से इस मामले में पर्याप्त मदद नहीं मिली। यदि पर्याप्त पुलिस बल होता तो तेंदुए को सकुशल पकड़ा जा सकता था।  जबकि एसएसपी लखनऊ दीपक कुमार ने आशियाना इंस्पेक्टर त्रिलोकी सिंह को तेंदुए को मारने पर डीजीपी द्वारा 50 हज़ार रुपये के इनाम का ऐलान किया था। शनिवार को आशियाना थाना क्षेत्र के औरंगाबाद इलाके में सुबह तीन गोलियां लगने के बाद तेंदुए की मौत हो गई थी। लखनऊ ज़ू में तेंदुए का पोस्टमार्टम किया जा रहा है।

इनामिया बदमाश को तालकटोरा पुलिस ने दबोचा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here