Home उत्तर प्रदेश बीएचयू में कई छात्रों को बंधक बनाकर धमकाया, भगवानदास हॉस्टल में देर...

बीएचयू में कई छात्रों को बंधक बनाकर धमकाया, भगवानदास हॉस्टल में देर रात छात्रों का हंगामा

55
0
SHARE

वाराणसी | बीएचयू के भगवानदास हॉस्टल में रहने वाले लॉ फैकेल्टी के छात्रों ने गुरुवार देर रात हंगामा कर दिया। हॉस्टल में देररात घुसे करीब आधा दर्जन छात्रों को बंधक बना लिया। उनका आरोप था कि वे असलहा लेकर हॉस्टल के छात्रों को धमकाने आये थे। ऐसा उन्होंने एक प्रोफेसर के कहने पर किया है। बताते हैं कि बंधक बनाए गए छात्रों में दो हॉस्टल के कमरे की ग्रिल तोड़कर भाग निकले और चीफ प्रॉक्टर को मामले की जानकारी दी। सुरक्षाकर्मियों की सूचना पर लंका पुलिस और चीफ प्रॉक्टर मौके पर पहुंच गईं। चीफ प्रॉक्टर ने छात्रों से बात करना चाहा तो उन्होंने इनकार कर दिया।
उधर हॉस्टल के छात्रों ने मुख्य द्वार बंद कर परिसर की लाइट बंद कर दी। अंधेरे में बीएचयू प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। मौके पर पहुंची चीफ प्रॉक्टर रोयाना सिंह ने जब छात्रों से बात करनी चाही तो उन्होंने मना कर दिया। सभी छात्र विधि संकाय के प्रोफेसर और हॉस्टल के वार्डेन को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़े रहे।
हाजिरी पूरी न होने का भी मामला
बीएचयू के भगवानदास हॉस्टल में रहने वाले लॉ फैकेल्टी के छात्रों ने गुरुवार देर रात हंगामा की सूचना पर सदलबल पहुंचे लंका थाना प्रभारी भारत भूषण तिवारी ने बताया कि पिछले दिनों उपस्थिति पूरी न होने पर विधि संकाय के कुछ छात्रों को प्रवेशपत्र नहीं दिया गया था। इसके विरोध में विधि संकाय सहित कुछ अन्य विभागों के छात्र समर्थन में धरने पर बैठ गए थे। बीते बुधवार को परीक्षा से पूर्व छात्रों को पुलिस और बीएचयू प्रशासन ने जबरन हटा दिया। जिन छात्रों को प्रवेश पत्र दिए गए थे उन्होंने परीक्षा दे दी। इसी बात से गुस्साए छात्रों ने गुरुवार रात योजना बनाकर हंगामा करने लगे।
सुरक्षाकर्मियों की सूचना पर लंका पुलिस और चीफ प्रॉक्टर मौके पर पहुंच गईं। चीफ प्रॉक्टर ने छात्रों से बात करना चाहा तो उन्होंने इनकार कर दिया। छात्रों का कहना था कि एक प्रोफेसर ने साजिश के तहत फंसाकर हमें परीक्षा से वंचित किया है। उन्हीं के कहने पर बाहरी लोग हॉस्टल में रह रहे हैं। बाहरी लोग हॉस्टल के छात्रों से मारपीट करते हैं। कई बार कमरों से सामान भी चोरी हो चुके हैं। कई बार शिकायत के बाद भी सुनवाई नहीं हुई। छात्रों की मांग थी कि वार्डेन को भी पद से हटाया जाए और विशेष समय सारिणी तय कर उन्हें भी परीक्षा दिलाई जाए।
दो छात्रों को बंधक बनाने की सूचना है। हॉस्टल के छात्रों से बात करने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन वे कुछ सुनने को तैयार नहीं हैं।
रोयाना सिंह, चीफ प्रॉक्टर, बीएचयू
हॉस्टल में छात्रों के बवाल की सूचना पर पुलिस बीएचयू में गई थी लेकिन किसी को बंधक बनाए जाने की बात समाने नहीं आयी।

भारत भूषण तिवारी, एसओ लंका थाना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here