Home दिल्ली अब हजारीबाग के घर में मिले एक ही परिवार के छह लोगों...

अब हजारीबाग के घर में मिले एक ही परिवार के छह लोगों के शव

262
0
SHARE

हजारीबाग | दिल्ली के बुराड़ी इलाके में कुछ दिन पहले हुई दिल दहला देने वाली घटना जैसा ही मामला अब झारखंड के हजारीबाग में देखने को मिली है। हजारीबाग में एक ही परिवार के छह लोगों के शव रविवार सुबह उनके घर में मिले हैं। मृतकों में दो बच्चे भी शामिल हैं। यह परिवार बोड़म बाजार के खजांची तालाब स्थित सीडीएम शुभम अपार्टमेंट के फ्लैट नम्बर 303 में रहता था। परिवार में महावीर प्रसाद माहेश्वरी (70), पत्नी किरण माहेश्वरी (60), बेटा नरेश माहेश्वरी (40), बहू प्रीति माहेश्वरी (35), पोता अमन (10) और पोती अनवी थे। महावीर प्रसाद माहेश्वरी काजू का व्यवसाय करते थे।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने शुरुआती जांच में इसे आत्महत्या का मामला मान रही है। मौके से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है। इसमें परिवार के कर्ज में डूबे होने की बात लिखी हुई  है। हालांकि, इस मामले को हत्या के एंगल से भी पुलिस जांच कर रही है। पुलिस ने हत्या की आशंका से भी इनकार नहीं किया। मौके से मिले सुसाइड नोट में लिखा है कि अमन को लटका नहीं सकते थे, इसलिए उसकी हत्या कर दी। इसके साथ ही लिखा है, ‘बीमारी+दुकान बंद+दुकानदारों का बकाया न देना + बदनामी + कर्ज = तनाव (टेंशन) = मौत)
रिपोर्ट्स के मुताबिक अमन की हत्या की गई है, वहीं छोटी बच्ची अनवी को जहर दिया गया है। एक महिला की गला दबाकर हत्या की गई है और दो लोगों के शव फांसी के फंदे से लटके हुए मिले हैं। बताया जा रहा है कि सबसे आखिर में नरेश माहेश्वरी ने छत से कूदकर जान दी है। बताया जा रहा है इस परिवार पर काफी कर्ज हो गया था। इसके बाद यह परिवार तनाव में रहने लगा था, जिसके बाद यह कदम उठाया गया है। हालांकि, पड़ोसियों का कहना है कि यह परिवार बहुत ही शांत स्वभाव का था।
बता दें, कुछ दिन पहले ऐसी ही घटना दिल्ली के बुराड़ी इलाके में देखने को मिली थी। यहां एक ही परिवार के 11 सदस्यों के शव घर में मिले थे। इनमें से 10 लोगों के शव फंदे से लटके हुए थे, जबकि एक का शव फर्श पर पड़ा था। दिल्ली पुलिस अभी इस मामले की गुत्थी नहीं सुलझा पाई है। अभी तक की जांच में पुलिस इसे मामले को सामूहिक आत्महत्या का मामला बता रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here