Home उत्तर प्रदेश बलिया जेल में बंद कुख्यात अपराधी चला रहा अपना गैंग, स्वतंत्रता सेनानी...

बलिया जेल में बंद कुख्यात अपराधी चला रहा अपना गैंग, स्वतंत्रता सेनानी को जानमाल का खतरा

939
0
SHARE

बलिया। उत्तर प्रदेश के जनपद बलिया में एक स्वतंत्रता सेनानी ने जानमाल का खतरा बताकर बलिया जिलाधिकारी से सुरक्षा की मांग की है। स्वतंत्रता सेनानी के अनुसार उनके बड़े भाई स्वर्गीय विजय नारायण ठाकुर की हत्या 15 जुलाई 2015 को करवा दी गई थी| जिसका मुख्य आरोपी बलिया जेल में बंद है, जहां से वह अपना गैंग चला रहा है। मौजूदा समय में अपराधी का स्थांतरण गैर जनपद कारागार में कर दिया गया है। लेकिन आदेश के बावजूद भी उसे दूसरे जनपद की जेल में स्थानांतरण नहीं किया गया है।

अपराधियों की पनाहगाह बनी राजधानी लखनऊ
स्वतंत्रता संग्राम सेनानी जय राम ठाकुर पुत्र स्वर्गीय पंचदेव ठाकुर निवासी बंधुचक थाना दुबहड़ जनपद बलिया ने जिला अधिकारी बलिया को पत्र लिखकर जान माल के खतरे से बचाव के लिए पत्र लिखकर अवगत करा है कि अभियुक्त हरेंद्र पुत्र प्रभुनाथ सिंह ग्राम भड़सर थाना दुबहड़ का स्थांतरण शासन द्वारा अन्यंत्र कारागार कर दिया गया था| मुख्यालय कारागार प्रशासन एवं सुधार सेवा में उत्तर प्रदेश विभूति खंड गोमती नगर लखनऊ के अधीक्षक कारागार मुख्यालय उमेश सिंह द्वारा वरिष्ठ अधीक्षक कारागार बलिया द्वारा आदेश किया गया है कि स्थानांतरित किए गए कैदियों की संबंधी अनिरुद्ध कारागार को भेजने का कष्ट करें| परंतु खेद के साथ कहना पड़ रहा है कि कुख्यात अपराधी हरेंद्र कुमार सिंह आजतक जिला कारागार बलिया में रहते हुए जेल के अंदर अवैध रूप से कैंटीन चलाने की आड़ में गांजा भांग की सप्लाई करते हुए अपने भाई के गैंग का संचालन कर रहा है|

कासगंज हिंसा : जानलेवा धमकी के बाद चंदन गुप्ता के घर की सुरक्षा बढ़ाई गई
विदित हो कि उनके बड़े भाई स्वर्गीय विजय नारायण अंकुर की हत्या जिला कारागार बलिया में निरुद्ध अपने सगे भाई कुख्यात अपराधी सुरेंद्र सिंह के इशारे पर 15 जुलाई 2015 को कर दिया गया था| सुरेंद्र के गैर जनपद स्थानांतरण के बाद वह गैंग का संचालन जिला कारागार बलिया से कर रहा है| अभियुक्त सत्र प्रशिक्षण संख्या 292/16 के गवाहों एवं उनके परिजनों की हत्या कराना चाहता है। उन्होंने न्याय की गुहार लगाते हुए जिलाधिकारी से आग्रह किया है कि कुख्यात अपराधी हरेंद्र सिंह पुत्र प्रभुनाथ सिंह को शासन के आदेशानुसार तत्काल गैर जनपद स्थांतरित करते हुए स्थानीय कारागार प्रशासन को सख्त आदेश देने की कृपा करें, ताकि उनके गवाहों और परिजनों की जान माल की सुरक्षा हो सके।

सीवान में ट्रेन से कटकर 4 लोगों की मौत, 1 गंभीर रूप से घायल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here