Home लखनऊ राज्यपाल ने गणेश उत्सव की दी बधाई, एथलीट सुश्री सुधा सिंह को...

राज्यपाल ने गणेश उत्सव की दी बधाई, एथलीट सुश्री सुधा सिंह को किया सम्मानित

77
0
SHARE

लखनऊः उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने प्रदेशवासियो को गणेश उत्सव के अवसर पर हार्दिक शुभकामनाएँ दी हैं। राज्यपाल ने अपने बधाई सन्देश में कामना की है कि गणेशोत्सव सबके लिये मंगलकारी हो और समाज में परस्पर सौहार्द और सद्भाव का वातावरण बना रहे। उन्होंने कहा कि सामूहिक गणेशोत्सव की शुरूआत लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक ने की थी। इस उत्सव को आरम्भ करने के पीछे देश को आजाद कराने की दृष्टि से लोगों को जोड़ना था। उन्होंने कहा कि हमारे सभी पर्व समाज में एक-दूसरे को जोड़ने की परम्परा को और मजबूत करते हैं।
——————————————————————————————–
लखनऊः उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने आज राजभवन में एशियाड-2018 में रजत पदक प्राप्त विजेता एथलीट सुश्री सुधा सिंह को सम्मान स्वरूप ‘झांसी की रानी लक्ष्मीबाई’ का प्रतीक चिन्ह एवं पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर राज्यपाल के प्रमुख सचिव हेमन्त राव, विशेष सचिव डाॅ0 अशोक चन्द्र, अपर विधि परामर्शी कामेश शुक्ल एवं अन्य अधिकारी तथा सुधा सिंह के पिता  हरि नारायण सिंह सहित सी0एम0 सिंह, मुकेश सिंह, बी0पी0 सिंह के अलावा कोच सुरेन्द्र सिंह भी उपस्थित थे।
राज्यपाल ने सुश्री सुधा सिंह का अभिनन्दन करते हुए कहा कि भविष्य में और आगे बढ़े तथा देश एवं प्रदेश का नाम रौशन करें। खेल में हार-जीत तो होती रहती है। हारने का दुःख नहीं होना चाहिए बल्कि अच्छा खेलने के लिये प्रयास करते रहना चाहिए। जीवन में आगे बढ़ने की कोशिश करते रहना चाहिए। इससे समाज को भी प्रेरणा प्राप्त होती है। आगे बढ़ने के लिये प्रेरणा प्राप्त करने की जरूरत होती है। उन्होंने कहा कि मेहनत और लगन से ही आगे बढ़ा जा सकता है।
श्री नाईक ने कहा कि कि राजभवन में अनेक प्रकार के कार्यक्रम आयोजित होते हैं जैसे कवि सम्मेलन, संगीत के कार्यक्रम, कुष्ठ पीड़ितों द्वारा प्रस्तुत भजन संध्या। परन्तु खेल से जुड़े खिलाड़ी सम्मान से राजभवन की गरिमा बढत़ी है। राज्यपाल ने बताया कि विगत माह अगस्त में इसी राजभवन में प्रदेश के तीन विश्वविद्यालयों के खिलाड़ियों का सम्मान किया गया था। उन्होंने कहा कि देश में खेल कोटे से रेलवे, पेट्रोलियम एवं गैस कम्पनियों व अन्य सरकारी विभागों द्वारा देश के पदक प्राप्त खिलाड़ियों को नौकरी देने के साथ उन्हें खेल के लिये विशेष प्रोत्साहन दिया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here