Home उत्तर प्रदेश यूपी के शामली जनपद में जहरीली शराब से पांच की मौत, सात...

यूपी के शामली जनपद में जहरीली शराब से पांच की मौत, सात की हालत गंभीर

200
0
SHARE

झिंझाना, शामली | उत्तर प्रदेश के शामली जिले के झिँझाना थाना क्षेत्र के कमालपुर गांव में पिछले 48 घंटे में जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत हो गई है, जबकि सात लोग गंभीर है। पुलिस-प्रशासन ने भी इस बात की पुष्टि की है कि जहरीली शराब पीने के कारण ही बुधवार को भी दो मौत हुई। जहरीली शराब से मौत होने की जानकारी मिलते ही ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया। पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर लोगों का गुस्सा शांत कराया।
बुधवार को हुई इस घटना को प्रशासन ने छिपाने का भी प्रयास किया लेकिन ग्रामीणों के विरोध के बीच किसी की एक ना चली। जहरीली शराब पीने से गांव के ही सात व्यक्ति जिंदगी व मौत की जंग लड़ रहे है, सूचना मिलने पर एडीएम व एएसपी भारी पुलिस फोर्स के साथ गांव मे पहुंचे। भाकियू नेता ने आबकारी पर अवैध शराब बिकवाने का आरोप लगाया। शवों को पोस्टमार्टम को भेज दिया है।

यूपी के शामली जनपद में जहरीली शराब से पांच की मौत, सात की हालत गंभीर
बता दें कि झिँझाना थाना क्षेत्र के गांव कमालपुर मे पुलिस की मिली भगत से जहरीली शराब का कारोबार का आरोप ग्रामीणों ने लगाया। ग्रामीणों के मुताबिक सोमवार की शाम को एक व्यक्ति, मंगलवार को दो व्यक्तियों की व बुधवार को भी दो व्यक्तिओं की मौत से हड़कम्प मच गया। मंगलवार को भाकियू नेता ने कंट्रोल रूम को इसकी सूचना दी तो आनन फानन मे एसपी दिनेश कुमार मौके पर पहुंचे और परिजनों से जानकारी ली लेकिन परिजनों से पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया। इससे शराब से मौत होने का मामला दब गया, लेकिन बुधवार को गांव के राजकुमार पुत्र बलजीत व धर्मपाल पुत्र शंकर की मौत हो गई। जबकि सात लोगों की हालत अभी गंभीर बताई जा रही है।

सपा के पूर्व मंत्री के भाई और बहनोई की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत

ग्रामीणों का कहना था कि थे सभी अस्पताल में भर्ती है, लेकिन पुलिस इन बातों को छिपाती रही। ग्रामीणों ने गांव के लोगों पर स्थानीय पुलिस द्वारा पीड़ितों पर दबाव बनाने का आरोप लगाया । बुधवार को भी पुलिस ने पीड़ितों को विश्वास मे लेने प्रयास किया, लेकिन ग्रामीणों ने इसका विरोध किया। एएसपी श्लोक कुमार व एडीएम शामली मौके पर पहुंचे और परिजनों को किसान दुर्घटना बीमा से पांच लाख दिलाने पार आश्वासन दिया, एडीएम के आदेश पर पांच सदस्य चिकित्सकों की टीम को गांव मे तैनात कर दिया गया।
एएसपी श्लोक कुमार का कहना है बुधवार को दो लोगों की जहरीली शराब से मौत हो गई, मंगलवार को जिस व्यक्ति की मौत हुई थी उनके परिजनों ने पोस्टमार्टम नहीं करने दिया था। डीएम के आदेश पर मेडिकल कैम्प लगाया गया। दोषियों पर कार्यवाही की जायेगी।

जनपद बहराइच में चचेरे भाई ने किया मासूम का रेप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here