Home उत्तर प्रदेश बिजली विभाग के कर्मचारियों ने भूत के खिलाफ दर्ज कराई एफआईआर

बिजली विभाग के कर्मचारियों ने भूत के खिलाफ दर्ज कराई एफआईआर

1206
0
SHARE

kanpur : केंद्र सरकार योजना के तहत नि:शुल्क बिजली के कनेक्शन दे रही है। बिजली विभाग के अधिकारियों ने नर्वल थाने में तहरीर देकर एफआईआर दर्ज कराई है। तहरीर में लिखा है जब बिजली विभाग की टीम पहुंची तो भगवानदीन व उनका बेटा विनोद एलटी लाइन से जोड़कर बिजली चोरी कर रहे थे। जबकि भगवानदीन की एक साल पहले मौत हो चुकी है। जब इसकी जानकारी विभाग के अधिकारियों को हुई तो हडकंप मच गया।

छपरा-लखनऊ एक्सप्रेस की बोगी में मिली चार दिन पुरानी लाश, मचा हड़कंप

जानकारी के मुताबिक, नर्वल थाना क्षेत्र स्थित सवायजपुर गांव में रहने वाले भुजवल प्रजापति व उनके छोटे भाई विनोद प्रजापति रहते है। इनके पिता भगवानदीन की 25 फरवरी 2018 को मौत हो गई थी। सबसे खास बात यह है कि भगवानदीन के घर के आसपास बिजली का खम्भा तक नहीं लगा है। इसके साथ ही गाँव में विद्युत वितरण उपखंड नर्वल के अधिकारी भी गाँव में नहीं गए थे। ना ही अधिकारियों के पास बिजली चोरी की वीडियो ग्राफी है। इसके बावजूद भी नर्वल थाने में मृतक भगवानदीन व उनके छोटे बेटे विनोद पर बिजली चोरी की एफआईआर करा दी गई।

गोरखपुर में सड़क हादसे के दौरान वीरेन्द्र प्रताप शाही के पुत्र सहित दो की मौत
मृतक भगवानदीन के बड़े भुजवल ने बताया कि हमें तो पता ही नहीं था कि मेरे मृतक पिता और छोटे भाई विनोद के खिलाफ बिजली चोरी का मुकदमा है। हमें तो तब जानकारी हुई जब नर्वल थाने की पुलिस हमारे घर आई। जब हमें मुक़दमे की कापी मिली तो पता चला कि बीते 15 फरवरी 2018 को बिजली विभाग की टीम गाँव आई थी। मेरे घर से बिजली चोरी पकड़ी है। जब मैंने गांववालों से पता किया क्या बिजली विभाग की टीम आई थी क्या तो इसकी जानकारी किसी को भी नहीं थी। जबकि हमारे घर के आसपास बिजली का खम्भा भी नहीं लगा है और ना ही मेरे घर पर बिजली कनेक्शन है।

गोरखपुर में सड़क हादसे के दौरान वीरेन्द्र प्रताप शाही के पुत्र सहित दो की मौत

क्या कहते हैं जिम्मेदार
दक्षिणांचल विद्युत वितरण प्राइवेट लिमिटेड अधीक्षक अभियंता विद्युत कार्यमंडल आरपीएस तोमर के मुताबिक, जब हमारी चेकिंग टीम जाती है तो उसका नाम पता करती है। सबका नाम उन्हें पता नहीं होता है उसमे कौन रह रहा है। आसपास के पड़ोसियों से पूछा जाता है उनके द्वारा बताया गया होगा और वही लिख लिया गया होगा। इसकी जाँच करा ली जाएगी और जो उस मकान में रह रहा होगा उसके खिलाफ मोडीफाई करा दिया जायेगा। इसकी जाँच कराई जाएगी इसमें जो भी दोषी होंगे इसके विरुद्ध कार्यवाई की जाएगी। सरकार की मनसा है कि हर घर में बिजली पहुंचे बिना बिजली के रहना आज के समय में बहुत ही मुस्किल है।

रायबरेली में केबल से गला कसकर चालक की हत्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here