Home क्राइम लोन न चुकाने पर किसान को दी जेल भेजने की धमकी, हार्ट...

लोन न चुकाने पर किसान को दी जेल भेजने की धमकी, हार्ट अटैक से मौत

141
0
SHARE

बरेली। लोन की आरसी कटने के बाद अमीन किसान को जेल भेजने की धमकी दे रहा था। परेशान किसान की सदमे में आकर तबीयत बिगड़ गई। परिवार के लोग उसे अस्पताल लेकर भागे लेकिन रास्ते में किसान ने दम तोड़ दिया। परिजनों का आरोप है कि अमीन और बैंक के अफसरों के धमकाने से उसके पिता की हार्टअटैक से मौत हो गई। परिवार ने इसकी शिकायत कैंट पुलिस से की है।

घेर में सो रहे किसान को सांड़ ने पटक-पटक कर मार डाला
कैंट के जगतपुर निवासी सत्यपाल सिंह ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया सिविल लाइंस और बड़ौदा ग्रामीण बैंक क्यारा से लोन लिया था। लाखों का लोन लेने के बाद वह उसे जमा नहीं कर सके और चिंतित रहने लगे। आरोप है कि लोन जमा न होने पर यूनियन बैंक ने उनकी 26 नवंबर को आरसी काट दी थी। इसके बाद से अमीन और बैंक के कर्मचारी उन्हें लोन जमा कराने की बात कहते हुए धमका रहे थे। 19 नवंबर को बैंक की टीम उनके घर पहुंची और उन्हें पकड़ लिया। दस हजार रुपये लेकर उस समय उन्हें छोड़ दिया। इसके बाद से उन्हें लगातार फोन पर ट्रैक्टर बेचने का दबाव बनाते हुए धमकाया जाने लगा। 21 दिसंबर की रात उनकी तबीयत बिगड़ गई। परिजन उन्हें लेकर निजी अस्पताल आ रहे थे लेकिन रास्ते में उनकी मौत हो गई। परिवार का आरोप है कि दोनों बैंकों के लोग उनकी पिता की मौत का कारण है। उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाए। पीड़ित ने कैंट पुलिस को आरोपियों के खिलाफ शिकायत की है। हालांकि पुलिस ने रात तक उनकी रिपोर्ट दर्ज नहीं थी।

उत्तर प्रदेश : बिजली पेंशनर को सातवां वेतनमान का बकाया जल्द
दोनों बैंकों से लिया था सात लाख-
सत्यपाल ने खेती के लिए दोनों बैंकों से जो लोन लिया था, उसमें से सात लाख रुपये चुकाना बाकी रह गया था। बीते कुछ महीनों से सत्यपाल ने बैंक कि किश्ते जमा करना भी बंद कर दिया था। इसके बाद से बैंकों के कर्मचारी उन्हें लगातार धमका रहे थे।
एसपी सिटी अभिनंदन सिंह कैंट में किसान की मौत हुई है। बताया जाता है किसान ने बैंकों से लोन लिया था। उसकी आरसी भी कट चुकी थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here