Home उत्तर प्रदेश रायबरेली में मुठभेड़ दौरान पुलिस ने पहले असलहा तस्कर पकड़ा, बाद में...

रायबरेली में मुठभेड़ दौरान पुलिस ने पहले असलहा तस्कर पकड़ा, बाद में मार दी गोली

942
0
SHARE

लखनऊ | उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिला में पुलिस और एक असलहा तस्कर के बीच मुठभेड़ हो गई। पुलिस का दावा है कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने असलहा तस्कर को पकड़ने के लिए घेराबंदी को तो असलहा तस्कर ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। इस दौरान जबाबी कार्रवाई में पुलिस की गोली असलहा तस्कर के पैर में लग गई और वह घायल होकर गिर गया। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर अस्पताल में भर्ती कराया इसके बाद उसके खिलाफ आगे की विधिक कार्रवाई की गई। ये स्क्रिप्ट तो आप ने अब तक सैकड़ों मुठभेड़ में एक जैसी ही सुनी होगी। पुलिस की ये स्क्रिप्ट हर एनकाउंटर में समान ही रहती है।

हत्यारों ने शव को छोटे-छोटे टुकड़े कर बोरी में फेंक कर हुए फरार
असलहा तस्कर बोला पुलिस ने दिन में पकड़कर रात में मारी गोली
दरअसल रायबरेली पुलिस की ये मुठभेड़ उस समय झूठी साबित हुई जब पकड़े गए असलहा तस्कर लाल साहब ने आरोप लगाया कि उसे पकड़कर पैर में गोली मार दी गई। असलहा तस्कर ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उसे पिस्टल थमा दी और कहा ऐसे लेट जाना, मीडिया को कुछ ना बताना। पुलिस ने शहर कोतवाली क्षेत्र के मामा चौराहे आसपास के पास पुलिस ने मुठभेड़ का दावा किया लेकिन स्थानीय लोगों ने गोली चलने की आवाज तक नहीं सुनी। तस्वीरों में साफ तौर पर आप देख सकते हैं कि दलबल के साथ पुलिस अपराधी को ढूंढ रही है। तस्वीरों में दिख रहा असलहा तस्कर के पैर में गोली लगी है और वह इस अंदाज में लेटा है कि कोई भी देखकर बता सकता है कि ये मुठभेड़ फर्जी हो सकती है। आरोपी पिस्टल भी इस अंदाज में पकड़े है कि जैसे उसे थमाई गई हो। हालांकि आरोपी के ये सारे आरोप पुलिस ने नकार दिए।

सीतापुर में 7 साल की मासूम से दुष्कर्म की एफआईआर दर्ज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here