Home अन्य खबरें पत्नी के शव के 72 टुकड़े करने वाले इंजीनियर पति को उम्रकैद

पत्नी के शव के 72 टुकड़े करने वाले इंजीनियर पति को उम्रकैद

200
0
SHARE

देहरादून (एजेंसी)। देहरादून में सात साल पहले पत्नी की हत्या कर 72 टुकड़े करने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर राजेश गुलाटी को अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। पति गुलाटी को कल गुरुवार को ही कोर्ट ने पत्नी की हत्या में दोषी करार दे दिया था।

यह भी पढें:-कार में आग लगने से तीन युवक जिंदा जले
शुक्रवार को सुबह कोर्ट में राजेश गुलाटी की मौजूदगी में दोनों पक्षों के वकीलों ने सजा पर अपनी दलीलें दी। बचाव पक्ष ने जहां कम से कम सजा की मांग की। वहीं सरकारी वकील ने फांसी की सजा की मांग करते हुए अपनी दलीलें पेश की। कोर्ट ने इसके बाद कुछ देर के लिए प्रक्रिया रोक दी। फिर दोपहर ढाई बजे फैसला सुनाया। इस दौरान राजेश गुलाटी को फिर से कोर्ट में लाया गया।

यह भी पढें:-रक्षा मंत्री के लिए गोयल और प्रभु के नामों की चर्चा

दिल दहला देने वाली यह घटना देहरादून के कैंट कोतवाली क्षेत्र के प्रकाशनगर (गोविंदगढ़) में 12 दिसंबर 2010 को सामने आई थी। यहां मित्तल अपार्टमेंट के फ्लैट में पत्नी और दो बच्चों संग रह रहे सॉफ्टवेयर इंजीनियर राजेश गुलाटी (38) ने 17 अक्तूबर 2010 को पत्नी अनुपमा (37) की हत्या कर दी। इसके बाद राजेश ने शव के 72 टुकड़े कर डीप फ्रीजर में डाल दिए और उन्हें एक एक कर ठिकाने लगाने लगा था।

यह भी पढें:-उत्तर प्रदेश के नये बीजेपी अध्यक्ष महेन्द्रनाथ पाण्डेय बने
पुलिस ने 12 दिसंबर, 2010 को ही आरोपी राजेश गुलाटी को गिरफ्तार कर लिया था, तब से वह जेल में बंद है। इस हत्याकांड में करीब सात साल के ट्रायल के बाद गुरुवार को पंचम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश विनोद कुमार की अदालत ने राजेश गुलाटी को पत्नी अनुपमा की हत्या और साक्ष्य छिपाने का दोषी माना और अदालत ने आज दोषी के खिलाफ फैसला सुनाया।

यह भी पढें:-सावधान : सेक्स के दौरान ऐसा करने से हो जायेंगे नामर्द, देखें वीडियो

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here