Home उत्तर प्रदेश सीतापुर मुठभेड़ में इंस्पेक्टर सहित 3 पुलिसकर्मी घायल, लखटकिया इनामी मारा गया

सीतापुर मुठभेड़ में इंस्पेक्टर सहित 3 पुलिसकर्मी घायल, लखटकिया इनामी मारा गया

200
0
SHARE

लखनऊ | उत्तर प्रदेश में बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़ का दौर लगातार जारी है। यूपी पुलिस द्वारा चलाये जा रहे अभियान शूटआउट के चलते शुक्रवार देर रात को सीतापुर जिला में वाहन चेकिंग के दौरान बदमाशों और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ हुई। पुलिस के चंगुल में खुद को फंसता देख बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। जबाबी कार्रवाई में पुलिस की गोली लगने से एक लाख का इनामी बदमाश ढेर हो गया, जबकि अन्य भागने में कामयाब हो गए। बदमाशों की फायरिंग में पुलिस की जीप क्षतिग्रस्त हो गई। वहीं एक इंस्पेक्टर समेत तीन पुलिसकर्मी घायल हुए है। जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल घायल पुलिसकर्मियों का इलाज चल रहा है जबकि बदमाश का शव कब्जे में लेकर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है।

डॉयल 100 में तैनात दारोगा ने खुद को गोली से उड़ाया

जानकारी के मुताबिक, मामला सीतापुर जिला के रामकोट थाना क्षेत्र के गौरा गांव तिराहे का है। यहां सीतापुर में शुक्रवार देर रात वाहनों की चेकिंग के दौरान पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। एसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि पुलिस टीम संदिग्ध व्यक्तियों और वाहनों की चेकिंग कर रही थी तभी एक बाइक तीन लोग सवार होकर जा रहे थे। जब पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया। पुलिस से घिरता देखकर बदमाशों ने पुलिस जीप पर फायर कर दिया। जिससे जीप का शीशा क्षतिग्रस्त हो गया और उसमें सवार तीन पुलिसकर्मी चोटिल हो गये। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए बदमाशों पर फायर किया।

राजाजीपुरम के रहने वाले सचिन दुबे सेना में बने लेफ्टिनेंट

एसपी ने बताया कि एक बदमाश गोली लगने से घायल हो गया और दो बदमाश मौके से फरार हो गये। पुलिस ने घायल बदमाश को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मौके से बदमाशों की बाइक समेत एक 12 बोर की बन्दूक और एक अवैध असलहा भी बरामद किया है। एसपी के मुताबिक मारे गये बदमाश की अभी तक शिनाख्त नहीं हो पायी है। उसकी शिनाख्त के प्रयास किये जा रहे है। पुलिस के अनुसार कई थानों की फोर्स और ग्रामीणों की मदद से काम्बिंग कर दो फरार बदमाशों की तलाश की जा रही है। हालांकि सूत्रों के मुताबिक मृतक बदमाश पर 1 लाख का इनामी था और सीतापुर समेत कई जनपदों से मोस्टवांटेड अपराधी था।

दम्पति ने जेठ भाई की हत्याकर शव को पीजीआई के पास नाले में फेंका

3 फरवरी 2018 को जिला के महमूदाबाद कोतवाली में बदमाशों के रेलवे स्टेशन के पीछे किसी वारदात को अंजाम देने के लिए एक जगह एकत्रित होने की सूचना मिली थी। इस सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी की तो बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी। बदमाशों और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ में इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर सहित चार पुलिसकर्मी व दो बदमाश घायल हो गए थे। पुलिस ने घायल बदमाशों सहित 5 बदमाशों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की थी लेकिन रात का फायदा उठाते हुए दो बदमाश मौके से भाग निकले। पुलिस ने बदमाशों के पास से दो लूट की घटनाओं में लूटी गई ढाई किलो चांदी और 65 हजार रूपये नगदी व असलहे बरामद करने का दावा किया था।

BSF के डिप्टी कमांडेंट को लूटपाट के बाद सीओ आफिस के सामने मारी गोली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here