Home क्राइम चेन लुटेरों के अंतर्राष्ट्रीय गिरोह का पर्दाफाश, पांच गिरफ्तार

चेन लुटेरों के अंतर्राष्ट्रीय गिरोह का पर्दाफाश, पांच गिरफ्तार

194
0
SHARE

सरगना समेत पांच गिरफ्तार, नकदी सहित मोबाइल फोन व पर्स बरामद
लखनऊ। राजधानी में काफी दिनों से आतंक का पर्याय बने चेन व पर्स लुटेरों के अंतर्राष्ट्रीय गिरोह का राजफाश कर अलीगंज पुलिस ने सरगना समेत पांच लुटेरों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से दस मोबाइल फोन, घटना में इस्तेमाल दो मोटरसाइकिल व एक लाख 45 हजार रूपए की नकदी बरामद हुई है। इनके तीन-चार साथियों की तलाश की जा रही है। इस गिरोह के तार यूपी ही नहीं दिल्ली के अलावा कई राज्य से जुड़े होने की बात सामने आयी है। इस गुडवर्क पर एसएसपी दीपक कुमार ने पुलिस टीम की सराहना की है।

UP निकाय चुनाव : सपा ने मेयर पद के लिए सात प्रत्याशी मैदान में उतारे
अलीगंज क्षेत्र स्थित सीतापुर रोड के पास से रविवार को मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने पांच लोगों को गिर तार किया है। पकड़े गए सभी अभियुक्तों ने अपना नाम गाजियाबाद जिले के लोनी थाना क्षेत्र स्थित प्रेमनगर व हाल पता हसनगंज के खदरा निवासी आरिफ, उपरोक्त पता निवासी अजीम, फैजान उर्फ कल्लन, इमरान व रेहान बताया। एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि इस गिरोह का सरगना आरिफ है जो खदरा में किराये का मकान लेकर सभी को साथ रखता था। पूछताछ में सरगना ने बताया कि खदरा में रहकर वहीं से गिरोह का संचालन करता है तथा वहीं से घटना को अंजाम देने के लिए पहले मीटिंग करता था फिर अपने गिरोह को सरगना अलग-अलग क्षेत्रों में चेन व पर्स लूट करने के लिए भेजता है।

मुठभेड़ के दौरान दो पाकिस्तानी आतंकी ढेर, एक जवान शहीद

सीओ अलीगंज डॉ. मीनाक्षी गुप्ता के मुताबिक पकड़े गये सभी अभियुक्त शातिर किस्म के अपराधी हैं। उन्होंने बताया कि इस गिरोह का सरगना आरिफ है जो अपने अन्य साथियों को फोन कर शिया कॉलेज के पास बुलाता है और वहीं से लूटपाट करने के लिए निकलने की बात स्वीकार की है। एएसपी ट्रांसगोमती हरेन्द्र कुमार ने बताया कि सरगना आरिफ ने पूछताछ में बताया कि वह खुद ही अजीम के साथ बाइक लेकर निकलते हैं और सुनसान जगहों पर महिलाओं के गले से चेन व पर्स लूटकर भाग निकलते हैं।

बस्ती में परिजनों ने प्रेमी और प्रेमिका उतारा मौत के घाट

एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि गिरोह का सरगना आरिफ का तार यूपी दिल्ली ही नहीं विदेशों तक जुड़ा है जो लूट की रकम सऊदी अरब में रहने वाले अपने परिचित शख्स के यहां भेजता है और वहां से फिर रूपये मगवा कर हाईस्पीड वाली बाइके खरीदता है। एसएसपी का कहना है कि पूछताछ में सभी आरोपितों ने अपना जुर्म इकबाल करते हुए बताया कि वह अब तक यूपी व दिल्ली में कुल 80 से अधिक लूटपाट कर चुके हैं। यही नहीं पुलिस से बचने के लिए शातिर दिमाग वाले यह लुटेरे चेन व रकम लूटने के बाद गमछे में छिपाकर भाग निकलते हैं ताकि पुलिस भांप न सके कि यह लुटेरे हैं या फिर कोई और।

रोहिंग्या मुसलामानों की होगी नसबंदी, दी जाएगी महिलाओं को गर्भनिरोधक गोलियां और पुरुषों को कंडोम

एसओ अलीगंज जय शंकर सिंह के मुताबिक इनके खिलाफ कुल 21 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं और सरगना आरिफ, अजीम, इमरान, इससे पहले दिल्ली व गाजियाबाद में लूटपाट के मामले में जेल जा चुके हैं। पुलिस को इनके पास से दस मोबाइल फोन, पर्स, वोटर कार्ड, रोडवेज टिकट, दो बाइकें व एक लाख 45 हजार रूपये की नकदी बरामद हुई है। इस गुडवर्क पर खुश होकर एसएसपी दीपक कुमार ने टीम को नकद इनाम की घोषणा के साथ सराहना भी की।

बाप-बेटे की ट्रेन से कट कर दर्दनाक मौत, साले ने कूद कर बचाई जान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here