Home लखनऊ फेसबुक पर प्रेमजाल में फंसाकर ब्लैकमेल करने वाले तीन सगे भाई-बहन गिरफ्तार

फेसबुक पर प्रेमजाल में फंसाकर ब्लैकमेल करने वाले तीन सगे भाई-बहन गिरफ्तार

815
0
SHARE

लखनऊ। राजधानी लखनऊ की गाजीपुर पुलिस ने सर्विलांस सेल टीम की मदद से एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो बड़े-बड़े व्यापारियों से फेसबुक के माध्यम से अपनी बहन से दोस्ती करा लाखों रुपये ब्लैकमेल करके वसूला करते थे। आपको बता दें कि इन लोगों की वसूली से तंग आकर कल गाजीपुर थानाक्षेत्र के एक व्यापारी ने इनके खिलाफ पुलिस थाने में शिकयात दर्ज करवा दी। जिसके बाद पुलिस ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए सर्विसलान्स टीम की मदद से इस पूरे गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। इस पूरे मामले में हैरानी की बात यह रही कि इस गिरोह का संचालन तीन सगे भाई बहनों के द्वारा किया जा रहा था जो मूलरूप से बिहार राज्य के रहने वाले थे। जो ब्लैकमेलिंग के धंधे को आगे बढ़ाने के लिए पिछले काफी समय से लखनऊ में अलग-अलग स्थानों पर किराये पर रहकर करा करते थे। फिरहाल पुलिस ने इन तीनो आरोपी को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

ठेंगे पर कोर्ट का आदेश: बार-बालाओं के डांस पर जमकर उड़े नोट

पैसे मांगते वक्त धमकाते हुए पुलिस ने किया गिरफ्तार
एसपीट्रांस गोमती हरेंद्र कुमार ने बताया कि गाजीपुर थाना पर एक व्यापारी ने महिला द्वारा फेसबुक के माध्यम से ब्लैकमेलिंग करने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। इस मामले का संज्ञान लेते हुए थाना प्रभारी सुजीत राय ने सर्विसलान्स टीम की मदत से तीन सगे भाई बहन को गिरफ्तार किया है। जो फेसबुक के माध्यम से लोगों से लाखों रुपयों की ठगी कर चुके हैं। इतना ही नहीं पैसे न देने पर आरोपी पुलिस केस में फंसाकर जेल भेजवाने की धमकी देते थे। इस मामले से पर्दा तब उठा जब कल गाजीपुर थानाक्षेत्र के एक प्रतिष्ठित व्यापारी ने अपनी आप बीती बताते हुए पुलिस को इनके खिलाफ एक शिकायती पत्र दिया। जिसके बाद पुलिस ने मामले को गम्भीरता से लेते हुए सर्विसलान्स टीम की मदत से आज गाजीपुर पुलिस ने उस वक्त महिला को गिरफ्तार कर लिया। जब युवती एक व्यापारी को बुलाकर उसे रुपयों के लिए धमका रही थी।

रेप का आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर सीतापुर जेल में किया गया शिफ्ट
बिहार के मूल निवासी हैं भाई-बहन
पुलिस की गिरफ्त में आई युवती की पहचान डिंम्पल निवासी हथुआ थाना मीरगंज जनपद गोपालगंज बिहार के रूप में हुई। जो पिछले कुछ समय से अपने दो भाइयों नीरज तथा आशुतोष के साथ गाजीपुर थानाक्षेत्र अन्तर्गत निवास कर रही थी। पुलिस ने डिंम्पल की निशानदेही पर उसके दोनों भाइयों को भी गिरफ्तार कर लिया। डिंम्पल ने पुलिस को बताया कि वह फेसबुक के मैसेंजर के माध्यम से बड़े-बड़े व्यापारियों को अपने जाल में फंसाती थी। जिसके बाद उसके दोनों भाई वकील बनकर व्यापारियों को रुपयों के लिए ब्लैकमेल करते थे। उसने बताया कि आज भी मैं व्यापारी से डरा धमका कर रुपये ऐंठने आयी थी पर आप लोगों ने पकड़ लिया।

कंधों पर टांग कर आरोपी को जिला कारागार लेकर पहुंची हरदोई पुलिस
महिला बोली दुकानदार ने फर्जी फंसाया
एसपीटीजी के मुताबिक, पुलिस अभी इनके द्वारा कितने और लोग शिकार हुए जिनकी पड़ताल में जुटी हुई है। फिलहाल पुलिस ने तीनों भाई बहन को न्यायालय के सुपुर्द किया यहां से न्यायालय ने उन्हें जेल दिया है। वहीं जब आरोपियों से बात की गई तो आरोपी महिला ने बताया कि उन्हें किसी मोबाईल दुकानदार के द्वारा फंसाया जा रहा है। क्योंकि हम लोगों ने उस दुकानदार से कुछ पैसे उधार लिया था। हालांकि असल मामला किया है ये पुलिस की जांच का विषय है।

झारखंड में नाबालिग से गैंगरेप कर जिंदा जलाया, पंचायत ने लगाई 50 हजार की कीमत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here