Home क्राइम बिहार के एकमा में नाबालिग छात्रा से प्रिंसिपल सहित 18 लोगों ने...

बिहार के एकमा में नाबालिग छात्रा से प्रिंसिपल सहित 18 लोगों ने किया गैंगरेप

352
0
SHARE

एकमा (सारण)। बिहार के सारण जिले के एकमा थाना क्षेत्र के परसागढ़ में स्थित एक प्राइवेट स्कूल में 10वीं क्लास की 15 वर्षीया छात्रा से गैंगरेप का मामला सामने आया है। मले में स्कूल के प्राचार्य, शिक्षक व छात्रों समेत 18 को आरोपित किया गया है। गैंगरेप की यह शर्मनाक घटना सात माह तक चलती रही। पुलिस ने इस मामले में स्कूल के प्राचार्य, एक शिक्षक व दो छात्रों को गिरफ्तार किया है। अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने एसआईटी का गठन किया है। हालांकि, इस संबंध में आरोपित प्राचार्य उदय कुमार उर्फ मुकुंद ने कहा कि स्कूल की बढ़ती लोकप्रियता के कारण कुछ लोगों ने द्वेषवश साजिश रचकर फंसाया है।

PGI में पापर्टी डीलर ने साथियों के साथ मिलकर किया महिला से गैंगरेप
ब्लैकमेल कर करते रहे शोषण
पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि पहले उसके साथ स्कूल के एक लड़के ने जबर्दस्ती की। उसे दूसरे लड़के ने देख लिया। यह वाकया सार्वजनिक करने की बात कह एक-एक कर अन्य विद्यार्थी उसके साथ वाशरूम में दुष्कर्म करते रहे। हद तो तब हो गयी जब स्कूल के प्रिंसिपल व एक शिक्षक ने भी पीड़िता को ब्लैकमेल कर उसे अपना शिकार बनाया। दिसंबर 2017 से पीड़िता का यौनशोषण करीब 18 लोग करते रहे।

मुख्यमंत्री आवास के बाहर परिवार के साथ पहुंची महिला ने किया आत्मदाह का प्रयास
संकोच में नहीं दे पाई पिता को जानकारी
पीड़िता अपने साथ हो रहे गैंगरेप की जानकारी किसी को नहीं दे पा रही थी। विवाद के एक मामले में उसके पिता जेल में थे। घर पर अकेली मां व एक भाई था। एक माह पूर्व पिता जेल से छूटकर घर आये भी तो अपने साथ हो रहे अमानवीय कृत्य की जानकारी देने में छात्रा को संकोचवश एक माह लग गये। आखिरकार गुरुवार की रात उसने पिता को पूरी घटना की जानकारी दी। शुक्रवार को पिता अपनी बेटी को ले थाने पहुंचे।

एफसीआई गोदाम के पास ट्रक के अंदर नाबालिग की हत्या करने वाला गिरफ्तार
डीएसपी ने किया गिरफ्तार
थाने में मामला पहुंचने के बाद पुलिस हरकत में आई। छपरा एसडीपीओ अजय कुमार सिंह एकमा थाना और फिर उक्त स्कूल पर पहुंच मामले की जांच-पड़ताल में जुट गए। पुलिस ने स्कूल के प्रिंसिपल उदय कुमार उर्फ मुकुंद, टीचर बालाजी, छात्र रोहित कुमार उर्फ गोलू व मोहित कुमार को तत्काल गिरफ्तार कर लिया। अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। इसकी कमान खुद एसडीपीओ संभाल रहे हैं। घटना की गंभीरता को देखते हुए एसडीपीओ आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस बल के साथ छापेमारी में निकल पड़े हैं। वहीं छपरा महिला थाने की थानाध्यक्ष पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए सदर हॉस्पिटल छपरा लेकर गयीं।
स्कूल के रजिस्ट्रेशन पर संदेह
परसागढ़ के जिस स्कूल में गैंगरेप की घटना हुई है, उसका शिक्षा विभाग से किसी तरह का रजिस्ट्रेशन होने पर संदेह है। इस संबंध में पूछने पर एकमा के बीईओ मिथलेश्वर कुमार ने बताया कि उन्हें हाल ही में एकमा वन का चार्ज मिला है। इसलिए इस बारे में स्पष्ट तौर पर अभी उनके पास कोई जानकारी नहीं है।

मुख्यमंत्री आवास के बाहर परिवार के साथ पहुंची महिला ने किया आत्मदाह का प्रयास
स्कूल के शिक्षक व विद्यार्थी खामोश
दसवीं क्लास की छात्रा के साथ इतने लंबे समय से गैंगरेप होने की सूचना एकमा में जंगल में आग की तरह फैल गयी। घटना के बारे में जानकर लोग तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आपस में व्यक्त कर रहे थे। जिस स्कूल में यह घटना हुई है उसके विद्यार्थी से लेकर अन्य शिक्षक पूरी तरह से खामोश हैं। कोई भी इस बारे में कुछ बताने से यह कहते हुए इनकार कर रहा है कि उन्हें कुछ नहीं पता। वहीं आसपास के लोग भी घटना पर आश्चर्य प्रकट कर रहे हैं। सारण के एसपी हरकिशोर राय ने बताया कि दुष्कर्म मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी हुई है। अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। स्पीडी ट्रायल चलाकर कड़ी-से-कड़ी सजा दोषियों को दिलाई जायेगी।

दिव्यांग को लखनऊ पुलिस ने बताया हत्यारा, CM योगी ने किया था सम्मानित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here