Home क्राइम बाराबंकी जनपद में बलि के लिए किशोर के अपहरण का प्रयास

बाराबंकी जनपद में बलि के लिए किशोर के अपहरण का प्रयास

113
0
SHARE

लेकिन मुहूर्त निकल जाने से अपहर्ता गांव के बाहर छोड़ गए थे
लखनऊ | रामनगर थाना क्षेत्र के गर्री गांव में गुरुवार की रात कुछ लोगों ने एक घर पर हमला कर एक किशोर को मारने का प्रयास किया। परिवारीजनों व ग्रामीणों के आ जाने से हमलावर मौके से भाग निकले। किशोर के पिता ने बलि के लिए पुत्र का अपहरण किए जाने व जान से मारे जाने का अंदेशा जताते हुए पुलिस को तहरीर दी है, पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

अवध विश्वविद्यालय : बीएड के छात्र के एडमिट कार्ड पर अमिताभ बच्चन की फोटो
रामनगर थाना क्षेत्र के ग्राम गर्री निवासी खुन्नीलाल पुत्र फेरू लाल ने बताया कि गुरुवार की रात करीब 10 बजे भागीरथ व भगोले पुत्रगण रामसागर निवासी मरकामऊ थाना बदोसराय चुपके से घर में घुस आए। उनकी मां ने भागीरथ व भगोले समेत चार लोगों को घर में घुसते देख शोर मचाया तो वह सभी भाग गए। शुक्रवार की रात करीब डेढ़ बजे फिर से वही लोग घर में घुस आए। इसी बीच लोगों की नींद खुल गई। शोर मचाने पर सभी लोग दौड़े तो आरोपी घर में तोड़फोड़ कर भाग गए।

अच्छे कार्य करने के लिए प्रेरित करना पत्रकारिता का ध्येय होना चाहिए : राज्यपाल
पीड़ित ने पुलिस को बताया कि उसके बेटे शिवनंदन (16) का जन्म उल्टा हुआ है और उसके हाथ पैर में 24 उंगलियां हैं। जिससे लोग इसकी बलि देना चाहते हैं। पुलिस ने इस मामले में आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। खुन्नी लाल ने बताया कि किसी तांत्रिक ने बताया कि ऐसे बालक जिसका जन्म उल्टा हुआ हो और हाथ पैर में 24 उंगलियां हो उसकी बलि देने से मालामाल हो जाओगे। इसलिए लोग उसकी बलि देना चाहते हैं। वर्ष 2016 में शिवनंदन का बाइक से अपहरण किया गया था। लेकिन बलि का मुहूर्त निकल जाने से उसे गांव के बाहर वापस छोड़ दिया था। इस मामले में भगीरथ, हंसराज व रामसागर समेत नौ लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज है।

राजधानी में तीन बच्चों की डूबने से मौत, एक की तलाश जारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here