Home देश जम्मू-कश्मीर में आतंकी जट को भगाने के मामले में चार लोग गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर में आतंकी जट को भगाने के मामले में चार लोग गिरफ्तार

1208
0
SHARE

नई दिल्ली | जम्मू कश्मीर पुलिस ने शहर स्थित एसएमएचएस अस्पताल से लश्कर ए तैयबा के पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद नवीद जट को भगाने में कथित संलिप्तता को लेकर चार लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि जट के भागने के मामले में शकील भट, टीका खान, राहिल काचरू और मोहम्मद शफी नाम के लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

तालकटोरा से तीन लुटेरे गिरफ्तार, लूट के मोबाइल और बाइक बरामद
उन्होंने बताया कि छह फरवरी को 22 वर्षीय मोहम्मद नवीद जट उर्फ अबू हंजाला के अस्पताल से भागने की घटना का मास्टरमाइंड भट था। पुलिस ने बताया कि नवीद को भगाने में भट की मोटरसाइकिल का इस्तेमाल किया गया। उसने बताया कि पुलवामा निवासी खान ने जट को शहर से बाहर निकालने के लिए कथित तौर पर अपनी कार उपलब्ध कराई थी।

पांचवे दिन कमांडेंट का भी गोमती नदी में मिला शव
पुलिस सूत्रों ने बताया कि जट इस समय दक्षिणी कश्मीर के पुलवामा इलाके में हो सकता है। पुलिसकर्मियों पर गोलीबारी के बाद जट को भगाने में मदद उपलब्ध कराने वालों में काचरू एक अन्य सहयोगी था। श्रीनगर शहर के बाहरी इलाके नारबाल निवासी शफी ने आतंकवादी के भागने में मदद करने के वास्ते उसे कवर उपलब्ध कराने के लिए खुद को मरीज के रूप में पेश किया। पुलिस ने इन सभी चार लोगों को खुफिया जानकारी मिलने के बाद पुलवामा में विभिन्न जगहों पर छापेमारी के दौरान गिरफ्तार किया।

हत्याकर शवों के फेंके जाने का सिलसिला नहीं थम रहा
हालांकि पुलिस ने कहा कि जट को भगाने में मदद करने वाला पांचवां व्यक्ति पुलवामा निवासी हिलाल फरार है और माना जाता है कि वह जट के साथ है। मंगलवार को जट उस समय फरार हो गया था जब यहां एसएमएचएस अस्पताल में कम से कम दो अन्य आतंकवादियों ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया था। इस हमले में दो पुलिसकर्मी मारे गए थे।
एक संबंधित घटनाक्रम में जम्मू कश्मीर के गृह विभाग ने सेंट्रल जेल के अधीक्षक हिलाल अहमद को निलंबित कर दिया है। यह बात यहां एक आधिकारिक आदेश में कही गई। जांच पूरी होने तक वह महानिदेशक जेल कार्यालय से संबद्ध रहेंगे।
इस बीच, लश्कर ए तैयबा के सद्दाम पोद्दार सहित अन्य आतंकवादियों के साथ जट की तस्वीर सोशल मीडिया पर वितरित की जा रही है।

अमेठी में बुजुर्ग की गोली मार कर हत्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here