Home लखनऊ पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति किया गया अवैध निर्माण जमींदोश

पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति किया गया अवैध निर्माण जमींदोश

236
0
SHARE

लखनऊ। एलडीए ने हाईकोर्ट के निर्देश के बाद शनिवार को भारी मात्रा में पुलिस बल की उपस्थिति में पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति का सालेह नगर तिराहे के पास स्थित अवैध निर्माण को जमींदोश कर दिया। इसके लिए कमिश्नर अनिल गर्ग और बीसी प्रभु एन सिंह ने पुलिस जिला प्रशासन और शहर की संयुक्त टीम बनाई थी।

यह भी पढें:-प्रिंसपल सेंक्रेटरी मुकुल सिंघल ने किया मेट्रो निरीक्षण

अवैध निर्माण तोडऩे के दौरान एलडीए के संयुक्त सचिव, एसपी सिटी और जिला प्रशासन से एसीएम,पीएसी के साथ मौके पर मौजूद रहे। इसके अलावा वीसी प्रभु एन सिंह खुद एलडीए की टीम के साथ पोकलैंड जैसी मशीन लेकर पहुंचे। अवैध निर्माण गिराने के दौरान भारी मात्रा में पुलिस फोर्स मौजूद रहा। बिल्डिंग के ध्वस्तीकरण के दौरान गायत्री के समर्थकों ने विरोध किया लेकिन पुलिस प्रशासन की टीम के आगे उनकी एक ना चली।

यह भी पढें:-जेलों में धड़ल्ले से इस्तेमाल हो रहे हैं मोबाईल
बता दें कि हाईकोर्ट के आदेश पर पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति के अवैध निर्माण को तोडऩे के लिए एलडीए ने पहले काफी निष्क्रियता दिखाई थी। बताया जाता है कि तब गायत्री की हनक के आगे वरिष्ठ अधिकारियों की तरफ से ही करवाई ना करने के निर्देश दिए थे। प्राधिकरण ने 2016 में पूर्व विहित प्राधिकारी के आदेश पर निर्माणाधीन बिल्डिंग इंजीनियर और प्रवर्तन टीम के साथ सिर्फ नोटिस चस्पा की।

यह भी पढें:-साथ जाने से मना किया तो दांतों से काटी पत्नी की नाक

इसमें 15 दिन में खुद ही निर्माण तोडऩा था। यह आदेश गायत्री प्रजापति की जगह एसपी सिंह व अन्य के नाम से किया गया। इस के बाद भी एलडीए के मानचित्र सेल में संशोधन नक्शा पास करने की फाइल भी चलती रही। 20 दिसंबर 2016 को भी एक संशोधित नक्शा जमा किया गया था। 24 दिसंबर 2016 को खारिज किया गया।

यह भी पढें:-मलिहाबाद में करेंट से युवक की मौत

इसके बाद फाइल 2016 के अंत में प्रवर्तन विभाग को कार्रवाई के लिए भेज दी गई। यहां अप्रैल में नाम सुधार की कवायद शुरू हो गई और 1 महीने में सही नाम से नोटिस भेजकर नया वाद विहित प्राधिकारी कोर्ट में दायर किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here