Home लखनऊ लचर जांच करने में राजधानी के दो डिप्टी एसपी पाये गये दोषी

लचर जांच करने में राजधानी के दो डिप्टी एसपी पाये गये दोषी

246
0
SHARE

पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति की जमानत का मामला
एसपी उत्तरी ने जांच रिपोर्ट एसएसपी को सौंपी
लखनऊ। पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति में मामले में दो डिप्टी एसपी पर लचर तफ्तीश करने की बात सही पायी गयी है। इस संबंध में जांच करने वाले अधिकारी ने दोनों सीओ के विरुद्ध एसएसपी को अपनी जांच रिपोर्ट सौंप दी है।
एसएसपी ने इस संबंध में आईजी प्रशासन को दोनों सीओ के विरुद्ध कार्रवाई संबंधित पत्र भेजा है। दोनों सीओ पर आरोप है कि उनकी लचर तफ्तीश करने से पूर्व मंत्री व उसके दो सहयोगियों को जमानत मिल गयी थी।

यह भी पढें:-जानिये क्यो पिलाया जाता है सुहागरात में दूध, देखें वीडियों

यहां बताते चलें कि पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति को जमानत मिलने के बाद ये सवाल उठे थे कि इस केस की जांच करने दो सीओ अवनीश मिश्रा व अमिता सिंह ने लचर पैरवी की जिससे चलते गायत्री प्रजापति व उनके दोनों सहयोगियों को जमानत मिल गयी थी। इस तरह के गंभीर आरोप लगने के बाद एसएसपी ने दोनों सीओ के विरुद्ध जांच के आदेश दिये और ये जांच एसपी उत्तरी अनुराग वत्स को दी गयी।

यह भी पढें:-मेडिकल कालेज के अंदर महिला से गैंगरेप

जांच में एसपी उत्तरी ने सीओ हजरतगंज अवनीश मिश्रा ने गायत्री प्रजापति की जमानत के मामले में लचर पैरवी करने का दोषी पाया और सीओ अमिता सिंह को गायत्री के विरुद्ध सही सबूत न जुटा पाने को दोषी माना गया। जांच अधिकारी एसपी उत्तरी ने जांच पूरी होने के बाद अपनी रिपोर्ट एसएसपी को सौंप दी। जांच रिपोर्ट सौंपने के बाद अब दोनों सीओ पर विभागीय जांच की तलवार लटकने लगी है। एसएसपी ने जांच रिपोर्ट अध्ययन करने के बाद इस संबंध में विभागीय कार्रवाई के लिये आईजी प्रशासन सुजीत पाण्डेय केा एक पत्र भेजा है।

यह भी पढें:-पीजीआई चौकी पर हमला, बैंककर्मी के यहां लाखों की लूट

यहां बताते चलें कि पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति को लड़की के साथ रेप करने के मामले में जमानत मिलने के बाद खासा हड़कंप मचा था। इस मामले को शासन ने काफी गंभीरता से लिया था। हालांकि जमानत में रिहा होने से पहले ही गायत्री प्रजापति की जमानत निरस्त कर दी गयी थी। हालांकि उनके दो साथी जमानत पर जेल से बाहर आने में सफल हो गये थे, जिसके बाद न्यायालय ने उन दोनों की भी जमानत निरस्त करते हुए भगौड़ा घोषित कर दिया था और दोनों को हाजिर होने का आदेश दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here